Breaking NewsBusinessTechTop NewsWorldऑटोदेशनई दिल्लीराजनीतिरोजगारवायरलविदेशव्यापारसोशल मीडिया

PM मोदी ने किया देश में स्टार्टअप की सहायता के लिए 1,000 करोड़ रुपये के फंड का ऐलान, युवाओं को दिए सुझाव

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को ‘स्टार्टअप इंडिया इंटरनेशनल समिट’ को संबोधित करते हुए देश के युवाओं को स्टार्टअप को पहली प्राथमिकता देने की सलाह दी है। पीएम मोदी ने आगे कहा कि पहले अगर कोई युवा स्टार्टअप शुरू करता था तो लोग कहते थे कि तुम नौकरी क्यों नहीं करते, स्टार्टअप क्यों? लेकिन अब लोग कहते हैं कि नौकरी तो ठीक है, स्टार्टअप क्यों नहीं शुरू करते। ये बदलाव बिम्सटेक देशों की बहुत बड़ी ताकत है।

 

PM ने बे-ऑफ बंगाल इनिशिएटिव फॉर मल्टी-सेक्टरल टेक्निकल एंड इकोनॉमिक कॉर्पोरेशन (BIMSTEC) के युवा इनवेंटरों से भी बात की। BIMSTEC देशों में बांग्लादेश, भूटान, इंडिया, म्यांमार, नेपाल, श्रीलंका और थाईलैंड आते हैं। पीएम मोदी ने कहा कि स्टार्टअप इंडिया मूवमेंट अपने सफल 5 साल पूरे कर रहा है। आज ही भारत ने कोरोना के खिलाफ ऐतिहासिक सबसे बड़ी वैक्सीनेशन ड्राइव शुरू की है। ये दिन हमारे वैज्ञानिकों, युवाओं और हमारे उधमियों की क्षमताओं और हमारे डॉक्टरों, स्वास्थ्यकर्मियों के परिश्रम और सेवाभाव का साक्षी है। उन्होंने कहा कि ये समय की मांग है कि भविष्य की टेक्नोलॉजी एशिया की लैब से निकले। भविष्य के एंटरप्रिन्योर्स हमारे यहां तैयार हों। इसके लिए एशिया के उन देशों को आगे आकर जिम्मेदारी लेनी होगी जो एक दूसरे के साथ मिलकर काम कर सकते हैं, एक दूसरे के लिए काम कर सकते हैं।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आगे कहा, ‘भारत दुनिया के सबसे बड़े स्टार्टअप इकोसिस्टम में से एक है। देश में 41,000 से अधिक स्टार्टअप हैं। जिसमें से आईटी क्षेत्र में लगभग 5,700 स्टार्टअप, स्वास्थ्य क्षेत्र में 3,600 और कृषि में 1,700 स्टार्टअप हैं। ये सभी व्यवसाय के जनसांख्यिकीय चित्र को बदल रहे हैं।’ प्रधानमंत्री ने कहा क‍ि हम देश में नए स्टार्टअप को विकसित करने में मदद करने के लिए 1,000 करोड़ रुपये का स्टार्ट-अप इंडिया सीड फंड लॉन्च कर रहे हैं। हम एक स्टार्टअप प्रणाली बनाने की कोशिश कर रहे हैं जो ‘युवाओं द्वारा, युवाओं के लिए’ मंत्र पर आधारित है।

विदित हो कि ‘स्टार्टअप इंडिया इंटरनेशनल सम्मेलन’ का आयोजन 15 और 16 जनवरी 2021 को किया गया। दो दिवसीय सम्मेलन का आयोजन पीएम मोदी द्वारा अगस्त 2018 में काठमांडू में आयोजित चौथे बिम्सटेक शिखर सम्मेलन में की गई घोषणाओं के तहत किया गया है। काठमांडू शिखर सम्मेलन में भारत ने बिम्सटेक स्टार्टअप सम्मेलन आयोजित करने की घोषणा की थी। इस सम्मेलन का आयोजन स्टार्टअप इंडिया पहल की पांचवी वर्षगांठ के मौके पर किया जा रहा है। इस शिखर सम्मेलन में 25 से अधिक देशों के 200 से अधिक वैश्विक वक्ता शामिल हुए तथा इसमें 24 सत्र आयोजित किए गए। शिखर सम्मेलन का उद्घाटन एक दिन पहले शुक्रवार को वाणिज्य और उद्योग मंत्री पीयूष गोयल ने किया था। पहले दिन करीब 1,20,000 से अधिक लोगों ने रजिस्ट्रेशन कराए थे।

Tags
Show More

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Close