Breaking NewsTop NewsWorldउत्तर प्रदेशदेशनई दिल्लीराजनीतिवायरलसोशल मीडिया

राम मंदिर निर्माण के लिए रायबरेली के पूर्व विधायक ने सबसे बड़े चंदे के रूप में दान किए 1,11,11,111 रुपए

उत्तर प्रदेश के अयोध्या में श्रीराम मंदिर निर्माण की घोषणा के बाद मंदिर के निर्माण के लिए दान समर्पण शुरू हो चुका है। इसी क्रम में अभी तक का सबसे बड़ा दान पूर्व विधायक सुरेंद्र बहादुर सिंह ने किया है। राम मंदिर ट्रस्ट के महामंत्री चंपत राय ने पूर्व विधायक से 1 करोड़ 11 लाख 11 हजार 111 रुपए का चेक लेकर उन्हें धन्यवाद दिया।

बताया जा रहा है कि सरेनी के पूर्व विधायक सुरेंद्र बहादुर सिंह ने श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के महामंत्री चंपत राय को मंदिर निर्माण के लिए 1 करोड़ 11 लाख 11 हजार 111 रुपए का दान दिया है। इतना बड़ा दान देकर सुरेंद्र अभी तक के पहले बड़े दानवीर बन गए हैं। अपने निज निवास तेज गांव में मकर संक्रांति पर एक बड़ा कार्यक्रम करवाया, जिसमें कई स्कूलों के छात्र-छात्राओं ने रामायण के सभी पात्रों के किरदार को निभाया। ‘जय श्री राम’ के नारों के साथ रामायण के किरदारों का मंचन हुआ। कार्यक्रम में ट्रस्ट के महामंत्री चंपत राय और डलमऊ मठ के मठाधीश पर श्री नरेन्द्रागिरी महाराज के साथ गणमान्य लोग उपस्थित रहे।

पूर्व विधायक सुरेंद्र बहादुर सिंह ने कहा कि मैं योगी और मोदी से ज्यादा इमानदार हूं। योगी और मोदी दूसरों को पैसा कमवाते होंगे लेकिन मैं ऐसा बिल्कुल नहीं करता हूं। मैं जो दान के पैसे देता हूं उस पर इनकम टैक्स विभाग भी उंगली नहीं उठा सकता है। इस तरह पूर्व विधायक सुरेंद्र बहादुर सिंह ने अपनी दानवीरता का बखान करते हुए योगी और मोदी से भी अपने को ऊंचा दिखाने में कोई कोर कसर नहीं छोड़ी।

श्री राम जन्म भूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के महामंत्री चंपत राय का कहना है कि मन्दिर निर्माण से पहले सभी तकनीकी परीक्षण पूरे हो गए हैं। नीव के सर्वोत्तम ड्राइंग पर काम शुरू हो गया है। आईआईटी चेन्नई, गुवाहाटी, नेशनल जियो इंस्टीट्यूट हैदराबाद के वैज्ञानिक, टाटा एलएनटी के इंजीनियर और तकनीशियन को आभर व्यक्त करता हूं। एक सप्ताह में ड्राइंग तैयार हो जाएगी।

इसके साथ ही उनका कहना है कि ‘समाज का समर्पण पूरी तरह से पारदर्शी होगा। समाज जो संग्रह करेगा वह 48 घंटे में बैंक में जमा हो जाएगा। श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट की ओर से 10, 100 व 1000 रुपयों के कूपन जारी किए गए हैं। इसके ऊपर की राशि पर रसीद दी जाएगी। रसीद व कूपन देने के साथ समर्पणकर्ता का नाम, पता व मोबाइल नंबर संग्रहित किया जाएगा। वहीं, 20 हजार से अधिक की राशि अकाउंट पेई चेक या बैंक ट्रांसफर द्वारा ही स्वीकार्य होगी।

कूपन व रसीद पर ट्रस्ट के कोषाध्यक्ष गोविंददेव गिरि के हस्ताक्षर हैं। इसमें प्रभु राम की एक हाथ में धनुष लिए और दूसरे हाथ से आशीर्वाद देती आदमकद तस्वीर, राम मंदिर का मॉडल व ट्रस्ट का लोगो भी छपा है। बिना रसीद या कूपन के कोई राशि नहीं ली जाएगी। जो राशि ली जाएगी वह प्रतिदिन पंजाब नेशनल बैंक, भारतीय स्टेट बैंक व बैंक ऑफ बड़ौदा की देश भर में फैली 46 हजार शाखाओं में प्रतिदिन जमा कराई जाएगी।

विहिप के कार्यकारी अंतरराष्ट्रीय अध्यक्ष आलोक कुमार ने कहा, ”विहिप ने मंदिर निर्माण के वास्ते धन संग्रह के लिए अपना अभियान शुक्रवार से शुरू किया। इसकी शुरुआत देश के प्रथम नागरिक राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद और उनके परिवार की ओर से 5,00,100 रुपये की राशि प्राप्त करने से हुई। उपराष्ट्रपति वैंकेया नायडू की पत्नी ऊषा नायडू पहले ही मंदिर के निर्माण के लिए पूरे परिवार की ओर से 5,11,116 रुपये का योगदान दे चुकी हैं।

Tags
Show More

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Close