Breaking NewsLife StyleTop Newsउत्तर प्रदेशक्राइमदेशनई दिल्लीमध्य प्रदेशराजनीतिवायरलसोशल मीडिया

लड़कियों की शादी की उम्र बढ़ाने की चर्चा पर कांग्रेस नेता बोले-15 साल में बच्चे पैदा करने लायक हो जाती हैं लड़कियां, विवाद शुरू

अपने बयानों को लेकर हमेशा सुर्खियों में रहने वाले कांग्रेस नेता और पूर्व मंत्री सज्जन सिंह वर्मा ने एक बार फिर बेतूका बयान देते हुए बेशर्मी का परिचय दिया है। मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान द्वारा लड़कियों की शादी की उम्र 21 साल किए जाने की बात पर कांग्रेस नेता सज्जन सिंह वर्मा ने कहा है कि जब लड़कियां 15 साल में प्रजनन लायक हो जाती हैं तो शादी की उम्र 21 साल करने की क्या जरूरत है? जब लड़कियों की शादी की उम्र पहले से 18 साल तय है तो इसमें बदलाव की क्या जरूरत है? कांग्रेस नेता का यह बयान सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है और सज्जन सिंह वर्मा की चौतरफा आलोचना भी हो रही है।

 

कांग्रेस दफ्तर में प्रदेश की कानून व्यवस्था पर पत्रकारों के सवालों के जवाब में वर्मा ने अचानक कहा ‘सीएम शिवराज सिंह चौहान कोई वैज्ञानिक नहीं हैं। प्रदेश में 13 साल की बच्चियों को बचा नहीं पा रहे हैं और 21 साल में शादी की वकालत कर रहे हैं!’ पूर्व मंत्री ने कहा कि ‘मध्य प्रदेश में लगातार महिलाओं और बच्चियों के खिलाफ अपराध बढ़ता जा रहा है। जिसे रोकने में यह सरकार फेल साबित हो रही है। 18 साल में लड़कियों की शादी होना सही है। उन्होंने कहा कि डॉक्टरों के अनुसार लड़कियों में 15 साल की उम्र में बच्चे पैदा करने की क्षमता हो जाती है। इसलिए उनकी शादी की उम्र में बदलाव करने की कोई जरूरत नहीं है।

गौरतलब है कि सोमवार को मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने एक कार्यक्रम में लड़कियों की शादी की उम्र को लेकर बहस की जरूरत बताई थी। उन्होंने इसे 18 से बढ़ाकर 21 साल किए जाने की बात कही थी। मुख्यमंत्री चौहान ने कहा था कि कई बार मुझे लगता है कि समाज में बहस होनी चाहिए कि बेटियों की शादी की उम्र 18 रहनी चाहिए या इसे बढ़ाकर 21 साल कर देना चाहिये। मैं इसे बहस का विषय बनाना चाहता हूं। प्रदेश सोचे, देश सोचे ताकि इस पर कोई फैसला किया जा सके।

Tags
Show More

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Close