Breaking NewsFoodsTop Newsदेशनई दिल्लीराजनीतिवायरलव्यापारसोशल मीडियाहरियाणा

पूर्व CM ओमप्रकाश चौटाला के बेटे अभय चौटाला ने स्पीकर को भेजा इस्तीफा, हरियाणा में राजनीतिक हलचल हुई तेज

कृषि कानूनों को लेकर कई पार्टियों के नेता किसान आंदोलन को समर्थन देते हुए इस्तीफा दे चुके हैं। इस कड़ी में अब हरियाणा की राजनीतिक पार्टी इंडियन नेशनल लोकदल के प्रधान महासचिव एवं ऐलनाबाद से विधायक अभय सिंह चौटाला ने सोमवार को हरियाणा विधानसभा के अध्यक्ष ज्ञान चंद गुप्ता को ई-मेल कर विधायक पद से अपना इस्तीफा भेज सबको चौंका दिया है। अभय चौटाला ने लिखा कि 26 जनवरी तक कृषि कानूनों को अगर वापस नहीं लिया जाता है तो इस चिट्ठी को मेरा विधानसभा से त्यागपत्र समझा जाए। अभय चौटाला ने इस चिट्ठी में कहा कि अब तक आठ दौर की बातचीत हो चुकी है लेकिन सरकार ने कानून वापस लेने पर कोई सहमति नहीं जताई है। अभय ने कहा इस प्रकार की परिस्थितियों में विधानसभा में मुझे मेरी मौजूदगी का कोई महत्व नहीं लगता। अभय ने चिट्ठी में खुद को चौधरी देवी लाल की विरासत का रखवाला बताया है।

हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री रहे ओमप्रकाश चौटाला के बेटे अभय चौटाला ने कहा था कि पिछले डेढ़ माह से किसान अपनी मांगों को लेकर इस भयंकर ठंड व बारिश के मौसम में डटे हुए हैं। लेकिन सरकार के कानों पर जूं तक नहीं रेंग रही। इन तीन कृषि कानूनों को बनाने से पहले किसी भी किसान संगठन से राय नहीं ली गई और ना ही किसी किसान संगठन ने ऐसे बिलों को लाने की मांग की थी। सरकार केवल पूंजीपतियों को लाभ पहुंचने के लिए जीएसटी में तो संशोधन कर देती है लेकिन किसानों की मांग के बावजूद इन तीन कानूनों को रद्द नहीं किया जा रहा।

अभय चौटाला ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी पर निशाना साधते हुए कहा कि प्रधानमंत्री ने कहा था सरकार बनने के बाद किसान का कर्जा माफ कर दूंगा, लेकिन छह साल बीत जाने के बाद भी किसान कर्जदार हैं और उपर से उन पर काले कृषि कानून थोपे जा रहे हैं। उन्होंने आगे कहा कि नरेंद्र मोदी को प्रधानमंत्री देश की जनता ने बनाया है, विदेशियों ने नहीं। इन कानूनों पर बातचीत के लिए तारीख पर तारीख दी जा रही है, जो किसानों को बरगलाने का प्रयास है। प्रधानमंत्री को आगे आकर किसानों की मांगों को स्वीकार करना चाहिए और इन कानूनों को रद्द करना चाहिए। उन्होंने कहा कि आज देशभर का किसान एकजुट है और इन काले कानूनों के खिलाफ लड़ाई लड़ रहा है।

बता दें कि इस्तीफा देने वाले अभय चौटाला का भतीजा हरियाणा का उप-मुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला है। अभय चौटाला के पिता और हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री ओमप्रकाश चौटाला भ्रष्टाचार के एक मामले में जेल में सजा भुगत रहे हैं।

Tags
Show More

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Close