Breaking NewsTop Newsउत्तर प्रदेशक्राइमदेशराजनीतिवायरलसोशल मीडिया

उत्तर प्रदेश में मुरादनगर हादसे पर CM योगी आदित्यनाथ ने आरोपियों पर NSA लगाने का दिया आदेश

उत्तर प्रदेश के गाजियाबाद में एक श्मशान घाट की छत ढहने के मामले में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ सख्त कार्रवाई करते हुए नजर आ रहे हैं। राज्य के मुख्यमंत्री ने घटना के लिए कथित तौर पर ज़िम्मेदार इंजीनियर और ठेकेदार के खिलाफ रासुका/ NSA लगाने का दिया आदेश दे दिया है। बता दें कि इस हादसे में हुए नुक़सान की वसूली आरोपी इंजीनियर और ठेकेदार से करने के भी निर्देश दिए हैं।

 

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने डीएम और कमिश्नर को नोटिस जारी करते हुए पूछा है कि जब सितंबर में ही आदेश दिया था कि 50 लाख रुपए से ऊपर के निर्माण कार्यों का भौतिक सत्यापन करने का स्पष्ट निर्देश दिया गया था तो यह चूक क्यों हुई है। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री ने मृतक परिवारों को 10-10 लाख रुपये की आर्थिक सहायता देने और आवासहीन परिवारों को आवासीय सुविधा मुहैया करने के भी निर्देश दिए हैं। बता दें कि इस हादसे में अब तक 24 लोगों की मौत हो चुकी है, जबकि 17 का अब भी इलाज जारी है।

मुरादनगर हादसे के मुख्य आरोपी अजय त्यागी

जानकारी के मुताबिक, श्मशान घाट में हुए इस हादसे के मुख्य आरोपी अजय त्यागी को गिरफ्तार कर लिया गया है। हादसे के बाद से अजय त्यागी फरार था। जिस पर गाजियाबाद पुलिस ने आरोपी अजय त्यागी पर 25 हजार रुपये का ईनाम घोषित किया था। हादसे में 24 लोगों की मौत चुकी है। श्मशान घाट में घटिया निर्माण के चलते छत गिर गई थी जिसके चलते यह हादसा हुआ था।

घटनास्थल का दृश्य

इस मामले में ठेकेदार, नगरपालिका की कार्यपालन अधिकारी समेत कई लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज की जा चुकी है। इस मामले में ईओ, इंजीनियर और सुपरवाइजर को गिरफ्तार कर लिया गया था, जबकि ठेकेदार फरार चल रहा था। आरोपी ठेकेदार अजय त्यागी को सोमवार देर रात गिरफ्तार किया गया। इस केस में मुरादनगर नगरपालिका की कार्यपालन अधिकारी निहारिका सिंह, जेई चंद्रपाल, सुपरवाइजर आशीष, ठेकेदार अजय त्यागी और अन्य अज्ञात के खिलाफ केस दर्ज किया गया था। इनके खिलाफ धारा 304, 337, 338, 427, 409 के तहत मुरादनगर थाने में मुकदमा दर्ज हुआ है। उत्तर प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ ने इस मामले में जांच और कार्रवाई के आदेश दिए थे, जबकि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने हादसे पर दुख जताया था।

 

गौरतलब है कि रविवार को मुरादनगर में श्मशान की छत गिरने के कारण 24 लोगों की मौत हो गई थी। पुलिस के मुताबिक गाजियाबाद के थाना मुरादनगर क्षेत्र के उखलारसी गांव में एक व्यक्ति की मृत्यु हो जाने पर परिजन और सगे संबंधी मृत व्यक्ति को दाह संस्कार के लिए श्मशान घाट लेकर पहुंचे थे। परिजन मृत व्यक्ति का अंतिम संस्कार कर ही रहे थे तभी श्मशान घाट की छत भरभरा कर गिर गई थी जिससे यह हादसा हुआ था।

राष्ट्रीय सुरक्षा अधिनियम(NSA)-1980, देश की सुरक्षा के लिए सरकार को अधिक शक्ति देने से संबंधित एक कानून है। रासुका कानून केंद्र और राज्य सरकार को किसी भी संदिग्ध नागरिक को हिरासत में लेने की शक्ति देता है।

Tags
Show More

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Close