Breaking NewsBusinessTop Newsउत्तर प्रदेशजम्मू-कश्मीरदेशनई दिल्लीराजनीतिवायरलसोशल मीडिया

अखिलेश यादव के ‘बीजेपी की वैक्सीन’ वाले बयान पर उमर अब्दुल्ला ने मोदी सरकार के प्रति जताया विश्वास

केंद्रीय स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्री डॉ. हर्षवर्धन शनिवार को ऐलान कर चुके हैं कि पूरे भारत में कोरोना की वैक्सीन का टीकाकरण मुफ्त में किया जाएगा। किंतु कोरोना वैक्सीन को लेकर उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने विवादित बयान देकर सबको चौंका दिया है। समाजवादी पार्टी के नेता और पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने कहा, ‘फिलहाल मैं टीका नहीं लगवा रहा हूं। मैं बीजेपी की वैक्‍सीन पर कैसे भरोसा कर सकता हूं, जब हमारी सरकार बनेगी तो सभी को फ्री में टीका लगेगा। हम बीजेपी की वैक्‍सीन नहीं लगवा सकते।’

 

जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला ने ट्वीट करते हुए कहा, “मैं किसी और के बारे में तो नहीं जानता लेकिन जब मेरी बारी आएगी तो मैं खुशी से अपनी आस्तीन ऊपर कर लूंगा और कोरोना की वैक्सीन लूंगा। ये वायरस बहुत ही हानिकारक रहा है। यदि एक टीका सभी उथल-पुछल के बाद सामान्य स्थिति लाने में मदद करता है तो मुझे भी शामिल करें।”

 

एक और ट्वीट करते हुए उमर अब्दुल्ला ने लिखा, “जितने ज्यादा लोगों को वैक्सीन दी जाएगी, ये देश और अर्थव्यवस्था के लिए उतना ही बेहतर रहेगा। कोई भी वैक्सीन किसी राजनीतिक पार्टी की नहीं होती, वह मानवता की होती है और जितनी जल्दी हम कमजोर लोगों वैक्सीन लगवाएंगे वो उतना ही बेहतर होगा।”

उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के बयान पर शनिवार को बीजेपी के कई नेता हमलावर हो गए थे। चौतरफा आलोचनाओं से घिरे अखिलेश यादव ने बाद में अपनी सफाई में कहा कि उन्हें वैज्ञानिकों की क्षमता पर पूरा भरोसा है। लेकिन बीजेपी की ताली थाली वाली अवैज्ञानिक सोच पर भरोसा नहीं है।

उन्होंने ट्वीट करते हुए कहा, “हमें वैज्ञानिकों की दक्षता पर पूरा भरोसा है पर भाजपा की ताली-थाली वाली अवैज्ञानिक सोच व भाजपा सरकार की वैक्सीन लगवाने की उस चिकित्सा व्यवस्था पर भरोसा नहीं है, जो कोरोनाकाल में ठप्प-सी पड़ी रही है। हम भाजपा की राजनीतिक वैक्सीन नहीं लगवाएँगे। सपा की सरकार वैक्सीन मुफ़्त लगवाएगी।”

इसके अलावा उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने बीजेपी सरकार पर आरोप लगाते हुए ट्वीट किया,”कोरोना का टीकाकरण एक संवेदनशील प्रक्रिया है इसीलिए भाजपा सरकार इसे कोई सजावटी-दिखावटी इवेंट न समझे और अग्रिम पुख़्ता इंतज़ामों के बाद ही शुरू करे। ये लोगों के जीवन का विषय है। अत: इसमें बाद में सुधार का ख़तरा नहीं उठाया जा सकता है। गरीबों के टीकाकरण की निश्चित तारीख़ घोषित हो।”

समाजवादी पार्टी के प्रमुख नेता और पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के बयान पर केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर ने कहा कि “पीएम मोदी ने जान है तो जहान है की बात कही है। कोरोना वैक्सीन के लिए दुनिया भर के वैज्ञानिकों ने रात दिन इसलिए एक करा कि कम से कम जानें जाएं। अखिलेश यादव अपनी डूबती राजनीति बचाने के लिए दुर्भाग्यपूर्ण बयानबाज़ी कर रहे हैं।”

Tags
Show More

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Close