Breaking NewsBusinessTop Newsदेशनई दिल्लीराजनीतिवायरलव्यापारसोशल मीडिया

स्वास्थ्य मंत्री ने वैक्सीन की कीमत की अफवाहों को दरकिनार कर कहा कि मुफ्त मिलेगी वैक्सीन

वर्ष 2020 वैश्विक महामारी कोरोनावायरस से जूझते हुए बीत गया, अब नव वर्ष 2021 के आगमन पर इस गंभीर बीमारी की वैक्सीन को लेकर पूरी दुनिया आशान्वित बनी हुई है। मोदी सरकार ने वैक्सीन के टीकाकरण की तैयारियां युद्ध स्तर पर शुरू कर दी है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की अगुवाई में शनिवार को देशभर के 116 जिलों में 259 स्थानों पर टीकाकरण का ट्रायल किया जा रहा है। इसे ड्राय रन भी कहा जा रहा है। इस अभियान से सुनिश्चित किया जाएगा कि देशव्यापी टीकाकरण के लिए देश का स्वास्थ्य विभाग कितना तैयार हैं। ऐसा ही पूर्वाभ्यास कुछ दिन पहले चार राज्यों असम, आंध्र प्रदेश, पंजाब और गुजरात में आयोजित किया गया था। उस दौरान सरकार ने अपनी व्यवस्थाओं का दुरुस्त माना था, तब सरकार ने और राज्यों में भी मॉक ड्रिल की बात कही थी।

केंद्रीय स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ड्राई रन का जायजा लेने दिल्ली स्थित गुरू तेग बहादुर हॉस्पिटल पहुंचे। इस दौरान डॉ० सिंह ने कहा, ‘4 राज्यों में चलाए गए ड्राई रन के बाद जो फीडबैक मिला है, उसे वैक्सीनेशन की नई गाइडलाइंस में शामिल किया गया था और सभी राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों में आज के ड्राई रन को नई गाइडलाइंस के अनुसार चलाया जा रहा है। असली वैक्सीन देने के अलावा, ड्रिल के दौरान हर प्रक्रिया का पालन किया जा रहा है’।

 

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री ने कहा, ‘मैं लोगों से अपील करता हूं कि वे अफवाहों पर ध्यान न दें। आगे उन्होंने कहा, ‘वैक्सीन केवल दिल्ली में ही नहीं बल्कि पूरे देश में फ्री होगी। वैक्सीन की सुरक्षा और प्रभावकारिता सुनिश्चित करना हमारी प्राथमिकता है। पोलियो के वैक्सीनेशन के दौरान कई प्रकार की अफवाहें फैली थीं, हालांकि लोगों ने टीका लगवा लिया और भारत अब पोलियो मुक्त हो गया है’।

 

बता दें कि डॉ. हर्षवर्धन की ही देखरेख में दिल्ली में साल 1994 का पल्स पोलियो प्रोग्राम चलाया गया था, जिसमें करीब 10 लाख बच्चों को लाभ मिला था। उसी की सफलता को देखते हुए उन्होंने कहा कि टीकाकरण अभियान के लिए भी इससे जुड़े सभी हितधारकों, NGO, नागरिक समाज संगठन (CSO) और अन्य को एक साथ आने की जरूरत है। डॉ. हर्षवर्धन ने जिले के अधिकारियों को तय समय में काम पूरा करने का निर्देश दिया है। उन्होंने सभा स्थलों, कोल्ड चेन प्वाइंट्स और वैक्सीन के परिवहन (Transportatio) के दौरान पर्याप्त सुरक्षा व्यवस्था की जरूरत पर भी जोर दिया।

Tags
Show More

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Close