Breaking NewsLife StyleTop NewsWorldक्राइमदेशपंजाबराजनीतिवायरलवीडियोसोशल मीडिया

खंडा साहिब के निशान वाला शॉल ओढ़ने पर कांग्रेस नेता सिद्धू ने मांगी माफी, पढ़िए क्या है पूरा मामला

अक्सर अपने बयानों को लेकर विवादों में रहने वाले कांग्रेस के दिग्गज नेता नवजोत सिंह सिद्धू ने जाने-अनजाने में एक नया विवाद खड़ा कर लिया है। खंडा साहिब के निशान वाला शॉल ओढ़ने पर उन पर सिखों की धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुंचाने के आरोप लगाए गए। मामला अकाल तख्त तक पहुंचा। परमजीत सिंह अकाली ने श्री अकाल तख्त साहिब पहुंचकर नवजोत सिद्धू के खिलाफ शिकायत दे दी। विवाद बढ़ता देख कांग्रेस विधायक सिद्धू ने माफी मांगते हुए मामला निपटाना सही समझा। उन्होंने ट्वीट करते हुए लिखा,‘श्री अकाल तख्त सबसे ऊपर है। अगर मैंने अनजाने में किसी भी सिख की भावनाओं को ठेस पहुंचाई है तो मैं माफी मांगता हूं। बहुत से लोग सिखों के इस चिन्ह को पगड़ी पर लगाते हैं। कपड़ों पर लगाते हैं, कई गर्व के साथ इसका टैटू बनवाते हैं। मैंने भी बिना किसी गलत भावना के इस चिन्ह वाली शॉल पहनी थी।’

 

गौरतलब है कि कांग्रेस नेता नवजोत सिंह सिद्धू धार्मिक निशान वाला शाल ओढ़कर जालंधर के शाहकोट में किसानों के बीच गए थे। वहां उन्होंने कृषि कानूनों पर किसानों से चर्चा की थी। किंतु उनके शॉल पर विवाद खड़ा हो गया।

बताया जा रहा है कि अपनी लिखित शिकायत में परमजीत सिंह अकाली ने कहा कि नवजोत सिंह सिद्धू द्वारा खंडा साहिब व खालसा के निशान वाला शॉल ओढ़ना गलत है। एक सिख होने के नाते नवजोत सिद्धू को इस तरह का काम नहीं करना चाहिए। उन्हें पता होना चाहिए कि यह सिख मर्यादा के खिलाफ है। परमजीत सिंह अकाली ने कहा कि सिद्धू के ऐसा करने से सिखों की भावनाएं आहत हुई हैं। सिद्धू को सिख संगत से माफी मांगनी चाहिए। शॉल पर बने दोनों चिह्नों का सिख धर्म में खास महत्व है, लेकिन इन चिह्नों का इस तरह का प्रयोग करने पर सिख संगत में रोष है। इस शिकायत के बाद सिद्धू को अकाल तख्त पर बुलाने की मांग की गई, लेकिन उससे पहले ही कांग्रेस नेता नवजोत सिंह सिद्धू ने माफी मांग ली है।

Tags
Show More

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Close