Breaking NewsTop Newsक्राइमदेशराजनीतिरोजगारवायरलसोशल मीडियाहरियाणा

दुष्यंत चौटाला के खिलाफ सोशल मीडिया पर टिप्पणी की तो ड्राइवर को नौकरी से हटाया, विपक्ष हुआ हमलावर

सोशल मीडिया पर आरोप-प्रत्यारोप लगाते हुए टिप्पणी करने को लेकर नेता एक-दूसरे पर मानहानि का मुकदमा दर्ज करवाते रहे हैं। किंतु सत्ताधारी नेताओं और सामान्य नागरिक के बीच इस तरह की परिस्थितियों में सामान्य नागरिक को भारी नुक़सान उठाना पड़ता है। ताज़ा मामला हरियाणा के उप-मुख्यमंत्री पर टिप्पणी करने को लेकर चर्चा में बना हुआ है जिसमें टिप्पणी करने वाले व्यक्ति को अपनी नौकरी से हाथ धोना पड़ा है। दरअसल फेसबुक पर हरियाणा के उप-मुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला और जेजेपी के खिलाफ पोस्ट करने पर हांसी तहसीलदार के ड्राइवर को बर्खास्त कर दिया गया है। एसडीएम की तरफ से ये कार्रवाई की गई है। ड्राइवर को बर्खास्‍त करने के लिए जो लैटर जारी किया गया है, उसमें यह लिखा गया है कि आपके द्वारा उपमुख्‍यमंत्री के खिलाफ आपत्तिजनक पोस्‍ट की गई थी जो दंडनीय अपराध है। इसलिए आपको पद से मुक्‍त किया जा रहा है।

सेवा मुक्त किए गए ड्राइवर पन्नालाल का कहा है कि उसकी फेसबुक आइडी हैक हो गई थी। मामला सामने आते ही विपक्ष ने प्रदेश सरकार के इशारे पर कार्रवाई करने का आरोप लगाया है। पन्ना लाल का कहना है कि उसने कोई गाली गलौच व अभद्र भाषा का प्रयोग नहीं किया। बेवजह राजनीति का शिकार बनाया गया है। उसका दावा है कि नौकरी से हटाने से पहले न तो उसको कोई नोटिस दिया गया और न ही कोई लिखित जवाब देने को कहा गया। वे इसके खिलाफ हाईकोर्ट का दरवाजा खटखटाएंगे।

जानकारी के मुताबिक, हरियाणा में हांसी तहसील में पन्नालाल नामक युवक आउटसोर्सिंग पॉलिसी के तहत ड्राइवर के पद पर कार्यरत था। एसडीएम के पास किसी ने मोबाइल पर पन्नालाल के फेसबुक पोस्ट की स्क्रीनशॉट भेज दिए। बताया जा रहा है कि एसडीएम कार्यालय की तरफ से पन्नालाल को नोटिस देकर जवाब मांगने के बजाए सीधे नौकरी से बर्खास्त कर दिया। इस पूरे घटनाक्रम पर ड्राइवर रहे पन्नालाल का कहना है कि उसकी फेसबुक से किसने पोस्ट किया ये उसे नहीं पता है, जबकि वह हमेशा सरकारी आदेशों को पालना करता रहा है।

बता दें कि पन्नालाल फेसबुक पर सोनू बूरा के नाम से आईडी चलाता है। सूत्रों के मुताबिक ड्राइवर पन्नालाल ने दुष्यंत चौटाला के कोरोना पॉजिटिव होने से संबंधित एक पोस्ट को अपने फेसबुक अकाउंट पर शेयर किया था। इसके अलावा जेजेपी-बीजेपी के सत्ता में आने के बाद किसानों पर लाठीचार्ज किए जाने से संबंधित पोस्ट भी सोशल मीडिया पर शेयर की थी। हालांकि इस बारे में पन्नालाल का कहना है कि ये पोस्ट उसके द्वारा नहीं किए गए हैं बल्कि कुछ समय तक उसकी फेसबुक आईडी हैक हुई थी। मगर कुछ स्‍क्रीनशॅाट ऐसे हैं जिनमें ये पोस्‍ट दर्ज हैं।

सोशल मीडिया पर उपमुख्यमंत्री को लेकर टिप्पणी पर ड्राइवर को नौकरी से बर्खास्त करने पर विपक्ष लगातार हरियाणा सरकार पर हमलावर बना हुआ है। युवा कांग्रेस के जिला प्रधान आनंद जाखड़ ने कहा कि सरकार तानाशाही तरीके से काम कर रही है और जनता की अभिव्यक्ति की आजादी को दबाने का काम कर रही है। उन्होंने सरकार के इस कदम की निंदा करते हुए ड्राइवर को बर्खास्त करने के आदेश निरस्त करने की मांग की है। वहीं, आम आदमी पार्टी के नेता मनोज राठी ने कहा कि सोशल मीडिया प्रत्येक नागरिक की अभिव्यक्ति का जरिया है और इस प्रकार से सरकार नागरिकों को डराने का काम कर रही है जिससे सरकार के खिलाफ माहौल ना बने। उन्होंने कहा कि प्रत्येक सरकारी कर्मचारी की निजी जिंदगी भी होती है और उसे अपनी अभिव्यक्ति की आजादी है।

Tags
Show More

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Close