Breaking NewsTop NewsWorldदेशराजस्थानवायरलसमय विशेषसोशल मीडिया

गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्ड होल्डर नवरत्न प्रजापति कोरोनाकाल में अपनी कलाकृति से लोगों को कर रहे जागरूक

वैश्विक महामारी कोरोनावायरस का प्रकोप अभी समाप्त होने का नाम नहीं ले रहा है। इस कोविड-19 बीमारी से सारा विश्व प्रभावित हो रहा है। देश-विदेश के अनेक संगठन, विख्यात शख्सियत इस बीमारी को लेकर लोगों को जागरूक कर रहे हैं और सावधानी बरतने की बात समझा रहे हैं। जयपुर के गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्ड होल्डर मुर्तिकार नवरत्न प्रजापति भी अपनी कलाकृति के माध्यम से लोगों को जागरूक करने की मुहिम में जुटे हुए हैं। भविष्य के प्रति लोगों को जागरुक करने के लिए नवरत्न प्रजापति ने एक बेहतरीन कलाकृति बनाई है।

इस बेहतरीन कलाकृति के जरिए मुर्तिकार ने बताया है कि जो लोग मास्क का प्रयोग कर रहे हैं, वह एक सुरक्षित कड़ी में हैं और कोरोना से अपना बचाव कर पा रहे हैं। लेकिन जो लोग मास्क का उपयोग नहीं कर रहे हैं, लापरवाही बरत रहे हैं वह कोविड-19 के कारण मृत्यु की चपेट में आ रहे हैं, इसलिए कोविड-19 से बचाव के लिए हमें मास्क का प्रयोग जरूर करना चाहिए।

गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्ड होल्डर मुर्तिकार नवरत्न प्रजापति ने ‘समय भारत’ से बात करते हुए बताया कि इस कलाकृति को बनाने में क्ले और फेब्रिक कलर का इस्तेमाल किया गया है। आगे उन्होंने कहा कि केंद्र और राज्य सरकार लोगों से कोविड प्रोटोकॉल की पालना करने की अपील कर रही है। ‘दो गज की दूरी और मास्क है जरूरी’ का मैसेज दिया जा रहा है लेकिन लोग इसकी पालना नहीं कर रहे हैं, एेसे में वह खुद न केवल कोरोना की चपेट में आ सकते हैं बल्कि दूसरों को भी संक्रमित कर सकते हैं। मैंने इस मूर्ति के माध्यम से यही दर्शाने का प्रयास किया है।

आपको बता दें कि मुर्तिकार नवरत्न प्रजापति इससे पूर्व लॉकडाउन के समय भी कोविड-19 को लेकर अपनी मूर्ति के जरिए बचाव का मैसेज दे चुके हैं। उस मूर्ति में नवरत्न प्रजापति ने सम्पूर्ण भारत को ताले के अंदर रख कर ताले के बाहर चोरों कोनों में चारों धर्मों को चिह्नित किया था और यह संदेश देने का प्रयास किया था कि कोरोना वायरस किसी का धर्म देखकर उसे संक्रमित नहीं करता यदि हम नियमों का पालन नहीं करेंगे तो वायरस हम सभी में से किसी को भी संक्रमित कर सकता है।

इतना ही नहीं, विख्यात मुर्तिकार नवरत्न प्रजापति ने अपनी मूर्ति में यह भी दर्शाया था कि कोरोना वायरस ने पूरी दुनिया को अपनी चपेट में ले लिया है। कोई भी व्यक्ति इससे संक्रमित हो सकता है लेकिन इसके बाद भी हमारे देश के वॉरियर्स अपनी जान पर खेलते हुए आम जनता को इससे बचाने का प्रयास कर रहे हैं। उन्होंने इसके माध्यम से देश के चिकित्सकों, नर्सिंग स्टाफ, पुलिस के साथ ही अनिवार्य सेवा से जुड़े सभी लोगों का आभार व्यक्त किया था।

मिनिएचर स्कल्पचर आर्टिस्ट नवरत्न प्रजापति पेंसिल की नोक की ग्रेफाइट पर 21.3 सेंटीमीटर लंबी एक चेन बना चुके हैं। इस चेन में 101 कड़ी (छल्ले) बने हुए हैं। युवा मूर्तिकार की यह उपलब्धि ‘गिनीज़ वर्ल्ड रिकॉर्ड’ में दर्ज हो चुकी है। गिनीज़ बुक ऑफ रिकॉर्ड्स की टीम की तरफ से नवरत्न प्रजापति को एक गोल्ड मेडल, एक प्रमाण पत्र दिया जा चुका है।

 

✍️ रिपोर्ट-दिनेश दिनकर

Tags
Show More

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Close