Breaking NewsTop Newsक्राइमदेशनई दिल्लीपश्चिम बंगाल चुनावराजनीतिवायरलसोशल मीडिया

पश्चिम बंगाल में राजनीतिक हड़कंप, मुख्यमंत्री को राज्यपाल ने चेताया- ‘आग से नहीं खेलें ममता बनर्जी, आपको माफी मांगनी चाहिए’

पश्चिम बंगाल में विधानसभा चुनाव अगले वर्ष होने तय है। किंतु राजनीतिक दल अभी से सक्रिय हो गए हैं। कल एक राजनीतिक कार्यक्रम में शामिल होने जा रहे बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा के काफिले पर कथित तौर पर टीएमसी कार्यकर्ताओं द्वारा पथराव किया गया। जिसके बाद पश्चिम बंगाल की राजनीति में हड़कंप मच गया। आरोप-प्रत्यारोप के बीच प्रदेश की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने बीजेपी को लेकर एक मर्यादित टिप्पणी की। जिसके बाद बीजेपी भी टीएमसी पर हमलावर हो गई।

 

गुरुवार को कोलकाता में एक सार्वजनिक रैली को संबोधित करते हुए कहा, “उनके पास कोई और काम नहीं है। कई बार गृह मंत्री यहां होते हैं, अन्य बार इसके चड्ढा, नड्डा, फड्डा, भड्डा यहां होते हैं। जब उनके पास कोई सुनने वाला नहीं होता है तो वे अपने कार्यकर्ताओं को नौटंकी करने के लिए कहते हैं।” उन्होंने कहा कि बंगाल दौरे के दौरान BJP नेताओं के काफिले में CRPF, BSF और CISF के जवान मौजूद होते हैं। हालांकि उनके बयान पर ट्विटर पर कई लोगों ने कड़ा विरोध जताया है। कहा कि किसी दूसरे दल के नेता पर हमला हुआ होता तो देशभर में हंगामा हो चुका होता।

इस पूरे घटनाक्रम पर अब पश्चिम बंगाल के राज्यपाल जगदीप धनखड़ ने प्रदेश के मुख्यमंत्री ममता बनर्जी को चेतावनी देते हुए कड़े शब्दों में कहा कि बंगाल में संविधान की मर्यादा टूटी है। मैडम सीएम, प्लीज आग से मत खेलिए। आपको माफी मांगनी चाहिए।’

गुरुवार को भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा के काफिले पर हुए हमले के बाद गृह मंत्रालय ने रिपोर्ट मांगी थी। रिपोर्ट भेजे जाने के बाद शुक्रवार को माडिया से राज्यपाल जगदीप धनखड़ ने कहा, ‘मैंने केंद्र सरकार को बेहद परेशान करने वाले घटनाक्रमों के बारे में एक रिपोर्ट भेजी है। यह लोकतांत्रिक मूल्यों के लिए अच्छी बात नहीं है। उसमें क्या है इसकी जानकारी साझा नहीं की जा सकती है। मुख्यमंत्री (ममता बनर्जी) को संविधान का पालन करना होगा। वह अपने मार्ग से हट नहीं सकतीं। राज्य में कानून-व्यवस्था की स्थिति लंबे समय से लगातार बिगड़ रही है।’

राज्यपाल ने आगे कहा, ‘कल हुई घटनाएं बहुत दुर्भाग्यपूर्ण हैं। यह हमारे लोकतांत्रिक ताने-बाने पर एक धब्बा हैं। कल की घटना के लिए ममता बनर्जी को माफी मांगनी होगी।’ राज्यपाल धनकड़ ने कहा, ‘पश्चिम बंगाल में भीतरी, बाहरी का खतरनाक खेल चल रहा है। वह (ममता) आग से ना खेलें। सीएम संविधान का पालन करें। संविधान का पालन नहीं हुआ तो मेरा रोल शुरू होगा।’ राज्यपाल ने कहा, ‘पश्चिम बंगाल में कानून का उल्लंघन करने वालों को पुलिस और प्रशासन का संरक्षण मिला हुआ है। बंगाल पुलिस सरकार की कठपुतली बन गई है। मैंने सभी आला अफसरों, DGP और मुख्य सचिव से जानकारी ली। कौन भीतरी है, कौन बाहरी, ममता को इसे छोड़ना होगा। हम बंगाल में शांति चाहते हैं।’

बताया जा रहा है कि पश्चिम बंगाल में कानून व्यवस्था को लेकर राज्यपाल की रिपोर्ट गृह मंत्रालय को मिल गई है। गृह मंत्रालय ने पश्चिम बंगाल के DGP और मुख्य सचिव को 14 दिसंबर को तलब किया है।

Tags
Show More

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Close