Breaking NewsFoodsTop NewsTravelउत्तर प्रदेशक्राइमदेशनई दिल्लीपंजाबराजनीतिराजस्थानवायरलसोशल मीडियाहरियाणाहिमाचल प्रदेश

किसान आंदोलन को लेकर ग्रेट खली ने सरकार को दी चेतावनी, कहा-पंजाबियों और हरियाणवियों से पंगा मत लो

कृषि कानूनों के खिलाफ आंदोलन कर रहे किसानों के साथ धीरे-धीरे सिनेमा कलाकार और खिलाड़ी भी जुड़ते जा रहे हैं। अब WWE व‌र्ल्ड हैवीवेट चैंपियनशिप के पहले भारतीय विजेता The Great Khali भी किसानों के समर्थन में उतर आए हैं। उन्होंने किसान आंदोलन के समर्थन का ऐलान करते हुए केंद्र सरकार को चेतावनी दी है कि पंजाबियों और हरियाणवियों से पंगा ना लें। वर्ना यह संघर्ष बहुत भारी पड़ेगा। इसी के साथ उन्होंने ‘जय जवान-जय किसान’ का नारा लगाकर तमाम किसानों का हौंसला भी बढ़ाया।

ग्रेट खली ने कृषि कानूनों के मुद्दे पर लगातार आवाज बुलंद करने के साथ देश की राजधानी नई दिल्ली की ओर कूच कर रहे किसानों का न केवल हौंसला बढ़ाया बल्कि, वीडियो भी रिकार्ड किया। इस दौरान युवा किसान नारेबाजी करते हुए उनके साथ सेल्फी भी लेते रहे। करीब दो मिनट के इस वीडियो में खली ने आंदोलन कर रहे किसानों को सचेत किया कि इन कानूनों के जरिए बड़े पूंजीपति उनकी फसलों को बहुत कम दाम में खरीदकर मनमानी कीमत पर जनता को ही बेचेंगे। उन्‍होंने आगे कहा कि इससे भी ज्यादा नुकसान दिहाड़ी मजदूरों, रेहड़ी लगाने वालों और इसी तरह के तमाम आम लोगों को होने वाला है। इसलिए वह सभी लोगों से विनती करते हैं कि किसानों के साथ सिर से सिर मिलाकर खड़े हों ताकि सरकार को किसानों की मांगें मानने के लिए मजबूर होना पड़े।

बता दें कि कुरुक्षेत्र सीमा स्थित करनाल जिले के समाना बाहू गांव के समीप खली बीते कुछ समय से अपनी एकेडमी तैयार कर रहे हैं। करीब 45 कनाल भूमि पर निर्माणाधीन इस प्रोजेक्ट की कमान खली ने खुद अपने हाथ ले रखी है। इसीलिए वह काफी समय यहां बिता रहे हैं। पंजाब के जालंधर से अक्सर यहां आने वाले खली जब एकेडमी की साइट पर पहुंचे तो चंडीगढ़-दिल्ली नेशनल हाईवे पर लगातार दिल्ली का रुख कर रहे किसानों को देखकर अचानक उनके बीच पहुंच गए।

उल्लेखनीय है कि सिंधु बॉर्डर पर किसानों का समर्थन करने के लिए शाहीन बाग आंदोलन को लेकर मशहूर हुई दादी बिलकिस बानो भी पहुंची थी। जिसे पुलिस ने तुरंत हिरासत में ले लिया था। हालांकि बाद में बुजुर्ग दादी को रिहा कर दिया गया।

Tags
Show More

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Close