Breaking NewsTop NewsWorldक्राइमछोटा पर्दादेशनई दिल्लीमनोरंजनमहाराष्ट्रराजनीतिवायरलसिनेमासोशल मीडियाहिमाचल प्रदेश

दिवंगत सिंगर वाजिद खान की पत्नी ने ससुराल वालों पर जबरन धर्म परिवर्तन करवाने का आरोप लगाया तो कंगना ने पीएम मोदी से पूछे सवाल

लव जिहाद कानून को लेकर देशभर से मिली-जुली प्रतिक्रिया मिल रही हैं। वहीं, तमाम विपक्षी पार्टियों के विरोध के बावजूद बीजेपी शासित उत्तर प्रदेश, मध्यप्रदेश की सरकारों ने ‘लव जिहाद’ को लेकर कठोर कानून बना दिए हैं। अचानक दिवंगत संगीतकार वाजिद खान की पत्नी कमालरुख ने हैरान कर देने वाला खुलासा करते हुए अपने ससुराल वालों पर गंभीर आरोप लगाए हैं। उन्होंने अपने इंस्टाग्राम हैंडल पर एंटी कन्वर्जन लॉ पर लंबा पोस्ट लिखा है। ‘इंटरकास्ट मैरिज’ की वजह से उन्होंने जो दर्द झेला उसका जिक्र किया है। कमालरुख ने लिखा- वाजिद के देहांत के बाद उनके ससुराल के लोग जबरदस्ती इस्लाम धर्म कबूलने के लिए दबाव बना रहे हैं। जिसके सोशल मीडिया पर एक नई चर्चा शुरू हो गई है।

दिवंगत सिंगर वाजिद खान अपनी पत्नी कमालरुख खान के साथ (फाइल फोटो)

वहीं, अपने बयानों को लेकर नियमित रूप से प्रतिक्रिया व्यक्त करने वाली अभिनेत्री कंगना राणावत ने इस मामले पर टिप्पणी करते हुए लोगों का ध्यान आकर्षित किया है। इस मामले पर बॉलीवुड अभिनेत्री कंगना राणावत ने ट्वीट कर पीएमओ से सवाल पूछा है। कंगना ने लिखा- ‘इस देश में पारसी अल्पसंख्यक हैं। वह देश पर कब्जा करने नहीं आए थे वह यहां तलाश में आए थे और उन्होंने बहुत आराम से भारत माता का प्यार मांगा था। इनकी छोटी सी जनसंख्या ने हमारे देश की सुंदरता, वृद्धि और आर्थिक मामलों में बहुत बड़ा योगदान दिया है।’

 

कंगना राणावत ने आगे लिखा- यह मेरे दोस्त की विधवा हैं जिन्हें परिवार परेशान कर रहा है। मैं प्रधानमंत्री मोदी से पूछना चाहती हूं कि अल्पसंख्यक लोग जो ड्रामा नहीं करते, किसी का सिर कलम नहीं करते, दंगे और धर्म-परिवर्तन नहीं करते, उन्हें हम कैसे सुरक्षित रख सकते हैं? पारसियों की कम होती संख्या भारत के कैरेक्टर के बारे में बड़ा खुलासा करती है।

बॉलीवुड अभिनेत्री कंगना ने लिखा- ‘मां का वो बच्चा जो सबसे ज्यादा ड्रामा करता है उसे अटेंशन और फायदे मिलते हैं और जो ये सब पाने के लायक है उसे कुछ नहीं मिलता। हमें सोचने की जरूरत है। #anticonversionbill

उल्लेखनीय है कि दिवंगत सिंगर वाजिद खान की पत्नी कमालरुख खान ने सोशल मीडिया पर एक भावुक पोस्ट में लिखा, ‘मेरा नाम कमालरुख खान है और मैं दिवंगत संगीतकार वाजिद खान की पत्नी हूं। उनसे शादी करने से पहले मैं उनके साथ 10 साल के रिश्ते में थी। मैं पारसी और वह मुसलमान थे। हम वही थे जिसे आप “कॉलेज स्वीटहार्ट्स” कहेंगे। हमने विशेष विवाह अधिनियम के तहत शादी की। यही कारण है कि धर्मांतरण विरोधी बिल की बहस के बीच यह बहुत दिलचस्प है। मेरी परवरिश ऐसे पारसी परिवार में हुई है जहां सभी लोग पढ़े-लिखे और खुलकर लोकतांत्रिक तरीके से अपनी बात कह सकते हैं।’

कमालरुख खान ने आगे लिखा, ‘हालांकि, शादी के बाद यही स्वतंत्रता, शिक्षा और लोकतांत्रिक मूल्य प्रणाली मेरे पति के परिवार के लिए सबसे बड़ी समस्या बन गई थी। उन्होंने पढ़ी-लिखी और आजाद महिला को स्वीकार नहीं किया और धर्मांतरण का दबाव बनाने लगे। मैं हर किसी धर्म का सम्मान करती हूं, लेकिन इस्लाम में परिवर्तित होने के मेरे प्रतिरोध ने मेरे और मेरे पति के बीच की दूरियों को काफी बढ़ा दिया था। यहां तक कि इतना मुश्किल हो गया था कि हमारे पति-पत्नी के रिश्ते खराब हो गए।’

विदित हो कि बॉलीवुड के मशहूर संगीतकार रहे वाजिद खान का लंबी बीमारी के बाद 1 जून 2020 को निधन हो गया था। बॉलीवुड में संगीतकार साजिद-वाजिद की जोड़ी काफी मशहूर रही थी। उन्होंने सबसे पहले 1998 में सलमान खान की फिल्म ‘प्यार किया तो डरना क्या’ के लिए संगीत दिया था। 1999 में, उन्होंने सोनू निगम की एल्बम ‘दीवाना’ के लिए संगीत दिया, जिसमें “दीवाना तेरा”, “अब मुझे रात दिन” और “इस कदर प्यार है” जैसे गाने शामिल थे। उसी साल उन्होंने फिल्म ‘हैलो ब्रदर’ के लिए संगीत निर्देशकों के रूप में काम किया और ‘हटा सावन की घाटा’, ‘चुपके से कोई और’ और ‘हैलो ब्रदर’ जैसे गाने लिखे थे। इसके अलावा वाजिद खान ने कई शो भी जज किये थे।

Tags
Show More

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Close