Breaking NewsTop NewsWorldक्राइमदेशनई दिल्लीवायरलसमय विशेषसोशल मीडिया

लापता बच्चों को ढूंढने पर महिला हेड कांस्टेबल को मिला ‘आउट ऑफ टर्न प्रमोशन’, OTP पाने वाली पहली महिला पुलिसकर्मी

अक्सर पुलिस कर्मियों को विपरीत परिस्थितियों में ड्यूटी करते हुए भी जनता के गुस्से का सामना करना पड़ता है। गलती सिर्फ गिने-चुने पुलिसकर्मी ही करते हैं और उसका खामियाजा पूरे विभाग को भुगतना पड़ता है। पुलिस विभाग में अपनी मेहनत और ईमानदारी से ड्यूटी निभाते हुए जनता की सेवा करने वाले पुलिसकर्मी भी तैनात हैं। इसी बहादुरी और ईमानदारी से काम करने का सुखद परिणाम है कि देश की राजधानी नई दिल्ली के समयपुर बादली में तैनात हेड कांस्टेबल सीमा ढाका को ‘आउट ऑफ टर्न प्रमोशन’ दिया जा रहा है। जानकारी के मुताबिक, हेड कांस्टेबल सीमा ने महज 3 महीने के अंदर 76 लापता बच्चों को ढूंढ निकाला है। सीमा ढाका ने प्रमोशन की खबर मिलने पर खुशी जताई है।

 

बुधवार को दिल्ली पुलिस ने इस सूचना का ऐलान किया है। दिल्ली पुलिस के PRO अनिल मित्तल ने बताया कि 5 अगस्त को पुलिस कमिश्नर एसएन श्रीवास्तव ने लापता बच्चों को ढूंढ़कर लाने वाले कांस्टेबल को ‘आउट-ऑफ-टर्न प्रमोशन’ (बिना बारी के तरक्की) देने का ऐलान किया था। पुलिस कमिश्नर एसएन श्रीवास्तव की शर्त के मुताबिक अगर कोई कांस्टेबल या हेड कांस्टेबल एक साल के अंदर 14 वर्ष से कम उम्र के कम से कम 50 बच्चों को खोज लेगा तो उसे ‘आउट-ऑफ-टर्न प्रमोशन’ दिया जाएगा। इन बच्चों में से 15 बच्चों की उम्र 8 साल से कम होना अनिवार्य था। पुलिस कमिश्नर ने उम्मीद जताई है कि इससे अन्य पुलिसकर्मियों को भी गुमशुदा बच्चों को तलाशने के लिए प्रेरणा मिलेगी।

दिल्ली पुलिस की हेड कांस्टेबल सीमा ढाका ने
लॉकडाउन के दौरान 5 अगस्त से अब तक कुल 76 लापता बच्चों को ढूंढ निकाला है। इन बच्चों को दिल्ली और अन्य राज्यों से खोजा गया है। इनमें 56 की उम्र 14 साल से कम है। सीमा के मुताबिक, उन्होंने जिन बच्चों को खोजा है उनमें कई बच्चे बिहार, बंगाल और देश के दूसरे राज्यों से मिले हैं।

‘आउट ऑफ टर्न प्रमोशन’ पाने वाली पहली महिला हेड कांस्टेबल

दिल्ली पुलिस के PRO ने बताया कि इस साल अब तक 3507 बच्चों की मिसिंग रिपोर्ट दर्ज हुई है। इनमें 2629 बच्चों को ट्रेस किया जा चुका है। सबसे ज्यादा 1440 बच्चे पुलिस कमिश्नर की घोषणा के बाद बरामद किए गए हैं। 2019 में 5412 बच्चों की मिसिंग रिपोर्ट दर्ज हुई थी। इनमें अब तक 3336 बच्चों को बरामद किया जा चुका है।

 

बता दें कि गुमशुदा बच्चों की बरामदगी के लिए दिल्ली पुलिस द्वारा घोषित नई प्रोत्साहन योजना के तहत हेड कांस्टेबल सीमा ढाका को ‘आउट ऑफ टर्न प्रमोशन’ दिया जाएगा। सीमा ढाका इस तरह प्रमोशन पाने वाली पहली महिला पुलिसकर्मी बन गई है।

✍️ दिनेश दिनकर

Tags
Show More

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Close