Breaking NewsBusinessTop Newsदेशनई दिल्लीराजनीतिवायरलसोशल मीडिया

दिल्‍ली के कुछ इलाकों में लग सकता है लॉकडाउन, मुख्यमंत्री केजरीवाल ने दिए संकेत

वैश्विक महामारी कोरोनावायरस ने बड़े स्तर पर अपना आतंक दिखाना शुरू कर दिया है। जिससे देश की राजधानी नई दिल्ली में शासन-प्रशासन के हाथ-पांव फूले हुए हैं। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने दिल्‍ली में कोरोना वायरस से निपटने के लिए फिर से सख्‍ती बरतने के संकेत दिए हैं। मुख्‍यमंत्री ने मंगलवार को प्रेस कॉन्‍फ्रेंस में बताया कि दिल्‍ली सरकार ने एक प्रस्‍ताव केंद्र सरकार को भेजा है जिसमें छोटे स्‍तर पर लॉकडाउन की इजाजत मांगी गई है। अगर केंद्र सरकार इजाजत देती है तो ज्‍यादा संक्रमण वाले इलाकों में फिर से लॉकडाउन लगाया जा सकता है। केजरीवाल ने कहा क‍ि कुछ बाजारों में दिवाली के समय काफी लापरवाही देखने को मिली। लोग न मास्‍क पहन रहे थे, न सोशल डिस्‍टेंसिंग का ध्‍यान रख रहे थे।

 

इसके अलावा मुख्यमंत्री केजरीवाल ने कहा कि
शादियों में मेहमानों की संख्‍या 200 तक रखने की छूट दी गई थी लेकिन बढ़ते मामलों को देखते हुए इसे 50 तक सीमित रखने का प्रस्‍ताव एलजी को भेजा गया है।

बता दें कि एक दिन पहले सोमवार को ही दिल्‍ली के स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री सत्‍येंद्र जैन ने कहा था कि राजधानी में कोविड-19 की तीसरी लहर खत्‍म हो गई है। उन्‍होंने कहा था कि लॉकडाउन लगाने का कोई प्‍लान नहीं है। स्वास्थ्य मंत्री जैन ने कहा, “दिल्‍ली में फिर से लॉकडाउन नहीं लगेगा। मुझे नहीं लगता कि अभी ये प्रभावी कदम साबित होगा। सबका मास्‍क पहनना ज्‍यादा फायदेमंद है।”

जानकारी के मुताबिक, दिल्ली में अब तक कुल मामलों की संख्या 4,89,202 हो गई है। दिल्ली में मामलों की कम संख्या राहत की बात है क्योंकि इससे पहले यहां रोज 8,500 से ज्यादा मामले दर्ज हो रहे थे। दिवाली के जश्न के बाद दिल्ली में 29,821 परीक्षण किए गए थे। कोरोना नियमों का उल्लंघन करने वाले लोगों के खिलाफ दिल्ली में बड़े पैमाने पर चालान किए जा रहे हैं। अभी तक दिल्ली में मास्क न लगाने वाले लोगों के खिलाफ 45 करोड़ रुपये के चालान किए जा चुके हैं।

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि मैं दिल्लीवासियों से हाथ जोड़कर अनुरोध करता हूं कि मास्क पहनें और सामाजिक दूरी बनाए रखने के नियमों का पालन करें।

Tags
Show More

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Close