Breaking NewsTop NewsWorldक्राइमछत्तीसगढ़देशवायरलसोशल मीडिया

छत्तीसगढ़ में महिला जज ने की आत्महत्या, पुलिस जांच में जुटी

छत्तीसगढ़ के मुंगेली जिले में 55 वर्षीय महिला जज कांता मार्टिन द्वारा अपने सरकारी आवास पर फंदे से लटकी मिलने से सनसनी फ़ैल गई है। मुंगेली के पुलिस अधीक्षक अरविंद कुजूर ने बताया कि मुंगेली जिला और सत्र न्यायाधीश कांता मार्टिन सुबह यहां करही क्षेत्र में अपने सरकारी आवास में एक कमरे में पंखे से लटकी मिली हैं। शुरुआती जांच के मुताबिक, शनिवार की शाम को जल्दी भोजन करने के बाद, न्यायाधीश ने अपने रसोइये और अन्य कर्मचारियों को घर से जाने के लिए कहा था।

मुंगेली जिला और सत्र न्यायाधीश कांता मार्टिन के सरकारी आवास पर जांच में जुटी पुलिस

पुलिस अधीक्षक ने आगे बताया, ‘जब रसोइया रविवार की सुबह वापस आया तो उसने पाया कि उनके आवास के दरवाजे अंदर से बंद हैं। उसने खिड़की से देखा तो न्यायाधीश पंखे से लटकी हुई थीं। इस पर रसोइये ने इसकी जानकारी पुलिस को दी।’ उन्होंने बताया कि पुलिस की टीम ने दरवाजा तोड़कर शव को बरामद किया और पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। जानकारी के मुताबिक, मौके से कोई सुसाइड नोट बरामद नहीं हुआ है। न्यायाधीश के स्टॉफ के अनुसार वह पिछले साल अपने पति की मौत के बाद से अवसाद में थीं। एसपी ने बताया कि उनके दो पुत्र हैं, जिनमें से एक दिल्ली में जबकि दूसरा रायपुर में रहता है।मामले की जांच चल रही है। फिलहाल कमरे से कोई सुसाइड नोट नहीं मिला है।

दिवंगत महिला जज कांता मार्टिन जुलाई 2019 से मुंगेली जिले की जिला एवं सत्र न्यायधीश थीं। वे बिलासपुर, कांकेर, दुर्ग और रायपुर में पोस्टेड रहीं। वे मध्यप्रदेश के कटनी की रहने वाली थीं।

Tags
Show More

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Close