Breaking NewsBusinessTop NewsWorldक्राइमदेशनई दिल्लीराजनीतिवायरलविदेशव्यापारसाहित्यसोशल मीडिया

बराक ओबामा ने राहुल गांधी को बताया नर्वस नेता और लिखा-योग्यता,जुनून की है कमी, सोशल मीडिया पर विरोध शुरू

अमेरिका में राष्ट्रपति चुनाव के बाद पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप अपने बयानों को लेकर खासे चर्चा में बने हुए हैं कि अचानक सोशल मीडिया पर पूर्व राष्ट्रपति बराक ओबामा को लेकर चर्चा तेज हो गई है। बता दें कि अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति बराक ओबामा ने राहुल गांधी को लेकर अपनी आत्मकथा ‘ए प्रॉमिस्ड लैंड’ (A promised Land) में कांग्रेस नेता राहुल गांधी का ज़िक्र किया है। ओबामा ने अपनी आत्मकथा में कांग्रेस नेता राहुल गांधी को नर्वस और कम याेेग्यता वाला बताया है। उल्लेखनीय है कि इसी किताब में बराक ओबामा ने भारत के पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह का जिक्र सकारात्मक चर्चा के साथ किया है।

अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति बराक ओबामा की चर्चित पुस्तक ‘ए प्रॉमिस्ड लैंड’ का कवर पेज (साभार:सोशल मीडिया)

पूर्व राष्ट्रपति बराक ओबामा ने अपनी किताब में लिखा, ‘राहुल गांधी एक ऐसे छात्र हैं जिन्होंने कोर्सवर्क तो किया है और शिक्षक को प्रभावित करने के लिए उत्सुक भी रहे लेकिन इस विषय में महारत हासिल करने के लिए या तो योग्यता नहीं है या जुनून की कमी है।’ उन्होंने राहुल गांधी को ‘नर्वस और बेडौल गुणवत्ता वाला’ भी बताया है। इस संस्मरण में बराक ओबामा ने राहुल गांधी की मां और कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी का भी जिक्र करते हुए समीक्षा में लिखा, ‘हमें चार्ली क्रिस्ट और रहम एमैनुएल जैसे पुरुषों के हैंडसम होने के बारे में बताया जाता है लेकिन महिलाओं के सौंदर्य के बारे में नहीं। सिर्फ एक या दो उदाहरण ही अपवाद हैं जैसे सोनिया गांधी।’

 

समीक्षा में जिक्र किया गया है कि अमेरिका के पूर्व रक्षा मंत्री बॉब गेट्स और भारत के पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह दोनों में बिल्कुल भावशून्य सच्चाई/ईमानदारी है। इसमें कहा गया है कि रूस के राष्ट्रपति व्लादिमिर पुतिन ओबामा को शिकागो मशीन चलाने वाले मजबूत, चालाक बॉस की याद दिलाते हैं। पुतिन के बारे में ओबामा लिखते हैं, ‘शारीरीक रूप से वह साधारण हैं।’ ओबामा का 768 पन्नों का यह संस्मरण 17 नवंबर को बाजार में आने वाला है। अमेरिका के पहले अफ्रीकी-अमेरिकी राष्ट्रपति ओबामा ने अपने कार्यकाल में दो बार 2010 और 2015 में भारत की यात्रा की थी।

बराक ओबामा की किताब में राहुल गांधी का इस तरह से जिक्र करना भारतीयों को पसंद नहीं आया। कुछ यूजर्स ने ट्विटर पर ओबामा के खिलाफ कैंपेन चला दिया है, जो #माफ़ी_माँग_ओबामा हैशटैग से ट्रेंड कर रहा है। एक यूजर ने लिखा कि जिस तरह से ओबामा ने राहुल गांधी के लिए भाषा का इस्तेमाल किया है, उसकी हम निंदा करते हैं।

Tags
Show More

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Close