Breaking NewsTop Newsउत्तर प्रदेशदेशराजनीतिवायरलसोशल मीडिया

उत्तर प्रदेश की मस्जिद में बीजेपी कार्यकर्ता ने पढ़ी हनुमान चालीसा तो इमाम को मिली सजा

उत्तर प्रदेश में मथुरा के मंदिर में नमाज पढ़े जाने का मामला देशभर में चर्चा का विषय बना हुआ है। जिसके बाद उत्तर प्रदेश के कई जिलों में मजार और मस्जिदों में हनुमान चालीसा पढ़ने का एक सिलसिला चल पड़ा। बता दें कि मथुरा और आगरा में ऐसा करने वाले हिंदू युवकों को पुलिस ने गिरफ्तार भी किया है। अब बागपत जिले की एक मस्जिद में हनुमान चालीसा का पाठ करने का मामला सामने आया तो इसकी सजा मस्जिद के इमाम को भुगतनी पड़ी।

भाजपा जिला कार्यकारिणी सदस्य मनुपाल बंसल के साथ मौलाना अली हसन (साभार: सोशल मीडिया)

जानकारी के मुताबिक, मंगलवार को बागपत के विनयपुर गांव की मस्जिद में बीजेपी कार्यकर्ता मनुपाल बंसल ने हनुमान चालीसा का पाठ किया और इस सोशल मीडिया पर वायरल कर दिया। भाजपा जिला कार्यकारिणी सदस्य मनुपाल बंसल का कहना है कि उन्होंने मस्जिद के इमाम मौलाना अली हसन की रजामंदी से ही मस्जिद में हनुमान चालीसा का पाठ किया है।

इस घटनाक्रम के बाद गांव में कोई विवाद सामने नहीं आया है लेकिन मस्जिद प्रबंधन की ओर से हनुमान चालीसा के पाठ की इजाजत देने वाले मौलाना अली हसन को मस्जिद से निकाल दिया है। बुधवार को हुई मुस्लिम समाज की बैठक में यह फैसला लिया गया। बताया जा रहा है कि कार्रवाई के बाद मौलाना गाजियाबाद के लोनी चले गए हैं। मौलाना अली हसन ने मीडिया से बातचीत में कहा, ‘‘ऊपर वाले का नाम कहीं भी बैठकर लिया जा सकता है। सब जगह उसकी बनाई हुई है। मैंने ही मस्जिद में हनुमान चालीसा का पाठन करने की इजाजत दी थी। इसमें कुछ भी गलत नहीं है। सभी लोग भाईचारे से काम लें।’’

मौलाना को मस्जिद से बाहर निकाले जाने की बात पर हनुमान चालीसा का पाठ करने वाले मनुपाल बंसल का कहना है कि मौलाना को निकालने का फैसला बहुत गलत है। उन्होंने पाठ की इजाजत देकर भाईचारे का संदेश दिया था। उन्होंने कहा कि वो पहले भी मस्जिद गए हैं। मौलाना के पास बैठते रहे हैं, लेकिन तब न वीडियो वायरल हुआ न कार्रवाई हुई। गांव में हुई इस घटना के बाद चौकसी बरतते हुए स्थानीय पुलिस ने यहां पहुंचकर गांव का मुआयना किया लेकिन शांत माहौल देखकर पुलिस वापस चली गई।

बता दें कि 29 अक्टूबर को मथुरा के नंदबाबा मंदिर में 2 मुस्लिमों ने नमाज पढ़ी थी। तब से ही एक-दूसरे के धार्मिक स्थलों पर अपनी धार्मिक संस्कृति के अनुसार ईश्वर वंदना करने का सिलसिला शुरू हुआ है। उक्त मामले में पुलिस ने एक आरोपी को गिरफ्तार भी कर लिया। इस घटना के बाद बाद मथुरा में ही बरसाना रोड पर स्थित मस्जिद में 4 युवकों ने हनुमान चालीसा का पाठ किया था, जिसके बाद चारों को गिरफ्तार कर लिया था। आगरा में भी एक शख्स ने मजार में हनुमान चालीसा का पाठ किया था जबकि दो लोगों ने मजार की दीवार पर भगवा रंग पोत दिया था। इसके बाद तीनों युवकों को पुलिस ने गिरफ्तार किया था।

Tags
Show More

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Close