Breaking NewsTop Newsक्राइमदेशमध्य प्रदेशराजनीतिवायरलसोशल मीडिया

कांग्रेस को लगा झटका: चुनाव आयोग ने MP के पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ सिंह को स्टार प्रचारकों की लिस्ट से हटाया

मध्यप्रदेश में उपचुनाव की तैयारियों के बीच कांग्रेस पार्टी को बड़ा झटका लगा है। अब मध्य प्रदेश उपचुनाव में पार्टी के लिए प्रचार कर रहे मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस पार्टी के सीनियर नेता कमलनाथ सिंह को स्टार प्रचारक की सूची से हटा दिया है। बताया जा रहा है कि चुनाव आयोग की तरफ से यह बड़ी कार्रवाई चुनाव आचार संहिता उल्लंघन के कई मामले सामने आने के बाद की गई है।

इस बड़े फैसले के बाद कांग्रेस पार्टी का कहना है कि चुनाव आयोग की इस कार्रवाई के खिलाफ वह कोर्ट का रुख करेगी। कांग्रेस के मध्य प्रदेश यूनिट के मीडिया कॉर्डिनेटर नरेन्द्र सलूजा ने कहा- “चुनाव आयोग की तरफ से पार्टी नेता कमलनाथ को स्टार प्रचारक का दर्जा खत्म कर दिया है। इस फैसले के खिलाफ पार्टी कोर्ट का रुख करेगी।”

चुनाव आयोग ने शुक्रवार को जारी एक आदेश में कहा, ‘…आदर्श आचार संहिता के बार-बार उल्लंघन और उन्हें (कमलनाथ को) जारी की गई सलाह की पूरी तरह से अवहेलना करने को लेकर आयोग मध्य प्रदेश विधानसभा के वर्तमान उपचुनावों के लिए मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ के राजनीतिक दल के नेता (स्टार प्रचारक) का दर्जा तत्काल प्रभाव से समाप्त करता है। चुनाव आयोग ने कहा कि कमलनाथ को स्टार प्रचारक के रूप में प्राधिकारियों द्वारा कोई अनुमति नहीं दी जाएगी। उन्होंने कहा, ‘हालांकि, अब से यदि कमलनाथ द्वारा कोई चुनाव प्रचार किया जाता है तो यात्रा, ठहरने और दौरे से संबंधित पूरा खर्च पूरी तरह से उस उम्मीदवार द्वारा वहन किया जाएगा जिसके निर्वाचन क्षेत्र में वह चुनाव प्रचार करेंगे।

गौरतलब है कि कांग्रेस नेता और मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ सिंह ने एक चुनावी सभा में बीजेपी प्रत्याशी और मंत्री इमरती देवी को ‘आइटम’ कह दिया था। चारों तरफ से घिरने के बाद पहले तो कमलनाथ ने कहा था कि ‘आइटम’ अपमानजनक शब्द नहीं है। उन्होंने कई अजीबो-गरीब तर्क देते हुए कहा कि विधानसभा और संसद में भी आइटम नंबर कहा जाता है। उन्होंने यह भी कहा कि वह नाम भूल गए थे और लिस्ट में आइटम नंबर 1, 2, 3 करके ही नाम लिखा जाता है। हालांकि, बात में उन्होंने अपने बयान पर खेद भी जताया। दूसरी तरफ बीजेपी मंत्री इमरती देवी ने कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी से गुहार लगाई थी कि कमलनाथ को पार्टी के सभी पदों से हटा दिया जाए।

जानकारी के मुताबिक, मध्यप्रदेश में उपचुनाव के लिए कांग्रेस ने पूर्व पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी, प्रियंका गांधी और कमलनाथ समेत 30 नेताओं को स्टार प्रचारक बनाया हुआ है। इस सूची में इनके अलावा मुकुल वासनिक, अशोक गहलोत, भूपेश बघेल, दिग्विजय सिंह, नवजोत सिंह सिद्धू, सचिन पायलट, अशोक चव्हाण, रणदीप सुरजेवाला, कांतिलाल भूरिया, सुरेश पचौरी, अरुण यादव, विवेक तंखा, राजमणि पटेल, अजय सिंह, आरिफ अकील, सज्जन सिंह वर्मा, जीतू पटवारी, जयवर्धन सिंह, प्रदीप जैन, लाखन सिंह यादव, गोविंद सिंह, नामदेव दास त्यागी, आचार्य प्रमोद कृष्णा, साधना भारती, आरिफ मसूद, सिद्धार्थ कुशवाहा और कमलेश्वर पटेल को शामिल किया हुआ है।

विदित हो कि इससे पहले चुनाव आयोग ने बीजेपी नेता कैलाश विजयवर्गीय की ‘‘चुन्नू-मुन्नू” वाली टिप्पणी पर नाराजगी जताई है। आयोग ने इसे चुनाव आचार संहिता का उल्लंघन माना है। विजयवर्गीय ने कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह और कमलनाथ सिंह के खिलाफ यह टिप्पणी की थी। आयोग ने विजयवर्गीय को आचार संहिता के दौरान सार्वजनिक तौर पर ऐसे शब्दों का इस्तेमाल नहीं करने की हिदायत दी।

मध्य प्रदेश की 28 विधानसभा सीटों पर तीन नवंबर को उपचुनाव होने हैं। कांग्रेस के 28 विधायकों के इस्तीफा देकर भाजपा में शामिल होने के कारण इन सीटों पर उपचुनाव हो रहा है।

Tags
Show More

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Close