Breaking NewsTop Newsदेशनई दिल्लीबिहारमहाराष्ट्रराजनीतिवायरलसोशल मीडिया

‘तुम मुझे वोट दो, मैं तुम्हें फ्री वैक्सीन दूंगा!’ बिहार में मुफ्त कोरोना वैक्सीन का वादा करने पर कांग्रेस-शिवसेना हुई बीजेपी पर हमलावर

बिहार विधानसभा चुनाव में सत्ता में वापसी को लेकर प्रयासरत बीजेपी ने गुरूवार को अपना घोषणापत्र जारी कर दिया है। इस घोषणा पत्र में बीजेपी ने बिहार की जनता को फ्री में कोरोना वैक्सीन देने का वादा किया है। कोरोना वैक्सीन के वादे पर बीजेपी बुरी तरह फंसती नजर आ रही है। विपक्ष ने बीजेपी के इस वादे पर सवाल उठाते हुए चुनाव आयोग का ध्यान केंद्रित करने का प्रयास किया है। कांग्रेस-शिवसेना समेत कई विपक्षी दलों ने बीजेपी पर वैक्सीन के नाम पर वोट मांगने का आरोप लगाया है।

शिवसेना के वरिष्ठ नेता संजय राउत ने कहा कि बीजेपी पहले जाति और धर्म के नाम पर बांटते थे, अब वैक्सीन के नाम पर बांट रहे हैं। इससे पहले केन्द्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने कहा था कि कोरोना के इस महाकाल में स्वास्थ्य सेवा महत्वपूर्ण प्राथमिकता बननी चाहिए। बिहार में हमारी सरकार बन रही है, कोरोना वैक्सीन जब बन जाएगी तो बिहार सरकार केंद्र सरकार के साथ सहयोग कर बिहार के कोरोना पीड़ित लोगों को वैक्सीन मुफ्त उपलब्ध कराएगी। इसी को लेकर संजय राऊत ने देश के स्वास्थ्य मंत्री से सवाल पूछा है कि क्या गैर-बीजेपी सरकार वाले राज्यों में कोरोना का वैक्सीन मुफ्त में मिलेगी या नहीं?

इसके अलावा, कांग्रेस पार्टी के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने तंज भरे लहजे में ट्वीट करते हुए कहा कि भारत सरकार ने कोरोना वैक्सीन की रणनीति की घोषणा की है। ये जानने के लिए कि वैक्सीन और झूठे वादे आपको कब मिलेंगे, कृपया अपने राज्य के चुनाव की तारीख़ देखें। वहीं कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने कहा कि प्रवासी श्रमिक संकट में, बिहार के सीएम और डिप्टी सीएम ने कहा कि वे बिहारियों को प्रवेश नहीं करने देंगे। पीएम ने कहा कि टीका संभवत: एक साल से पहले नहीं लगाया जा सकता।

बिहार में चुनाव प्रचार के दौरान ज्वलंत हुए वैक्सीन के इस मुद्दे पर कांग्रेस नेता शशि थरूर ने कहा कि तुम मुझे वोट दो, मैं तुम्हें वैक्सीन …. क्या इलेक्शन कमीशन इस पर सरकार से सवाल करेगा? वहीं बिहार के भाजपा प्रभारी भूपेंद्र यादव ने कहा कि हमने वादा किया है कि बिहार में हमारी सरकार कोरोना वैक्सीन निःशुल्क उपलब्ध करायेगी। सार्वजनिक स्वास्थ्य की बात आती है तो राजनीतिक दलों को संवेदनशील होना चाहिए। हम अपना वादा पूरा करेंगे।

इस पूरे घटनाक्रम पर चुनाव आयोग क्या ऐक्शन लेता है, यह देखना दिलचस्प होगा। बहरहाल अभी तक चुनाव आयोग की इस विषय पर कोई प्रतिक्रिया नहीं आई है।

Tags
Show More

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Close