Breaking NewsLife StyleTop Newsउत्तर प्रदेशक्राइमदेशवायरलसोशल मीडिया

उत्तर प्रदेश में बिना अनुमति दाढ़ी रखने पर दरोगा के खिलाफ एक्शन, अनुशासनहीनता के आरोप में किया गया निलंबित

अपनी कानून व्यवस्था को लेकर अक्सर चर्चा में रहने वाली यूपी पुलिस अब एक अजीब मामले के चलते चर्चा में आ चुकी है। उत्तर प्रदेश के बागपत जिले में पुलिस के यूनिफॉर्म कोड को लेकर यहां एक दरोगा के खिलाफ कड़ा एक्शन लेने का मामला सामने आया है। यहां पर एक दरोगा को इसलिए निलंबित कर दिया गया क्योंकि वो अपनी दाढ़ी नहीं कटवा रहा था। जानकारी है कि दरोगा को इसके लिए पहले नोटिस भी दिया जा चुका था, लेकिन ध्यान न देने पर उसे निलंबित कर दिया गया।

बागपत के पुलिस सुपरिटेंडेंट अभिषेक सिंह ने बताया कि उन्होंने दाढ़ी रखने पर एक दरोगा इंतिशार अली को निलंबित कर दिया है। दरोगा इंतिशार अली रमाला थाने में तैनात थे, जिन्हें एसपी ने दाढ़ी रखने पर नोटिस भेजा था। लेकिन नोटिस के बावजूद भी दरोगा ने दाढ़ी नहीं कटवाई। इसके बाद एसपी ने दरोगा पर एक्शन लेते हुए उन्हें निलंबित कर दिया है।

एसपी अभिषेक सिंह ने बताया कि पुलिस मैनुअल के अनुसार पुलिस बल में तैनात रहते हुए कोई भी अधिकारी-कर्मचारी दाढ़ी नहीं रख सकता है और अगर कोई रखना चाहता है तो उसे प्रशासन से अनुमति लेनी होती है। लेकिन दरोगा इंतसार अली बिना अनुमति के ही दाढ़ी रख रहे थे जिसकी शिकायत मिल रही थी। सिंह ने आगे कहा कि ‘काफी समझाने और नोटिस देने के बावजूद भी इंतिशार अली रमाला ने दाढ़ी नही कटवाकर अनुशासनहीनता दिखाई है, जिसपर उनके खिलाफ अनुशासनहीनता की कार्रवाई की गई है।’

पुलिस के यूनिफॉर्म कोड की बात की जाए तो पुलिस विभाग में सिख धर्म को छोड़कर किसी भी धर्म के व्यक्ति को दाढ़ी रखने से पहले विभाग से इजाजत लेनी होती है। लेकिन दरोगा इंसार अली ने न तो दाढ़ी रखने की इजाजत ली और न ही अधिकारियों के कहने पर दाढ़ी कटवाई, इसीलिए उनके खिलाफ ये कार्रवाई की गई।

इस घटनाक्रम पर एसआई इंतसार अली का कहना है कि वह नवंबर 2019 से ही अनुमति के प्रयास में लगा हुआ है, लेकिन अभी तक विभाग से अनुमति नहीं मिल सकी है। जल्द ही विभागीय प्रक्रिया पूरी की जाएगी। विदित हो कि सोशल मीडिया पर इस बात को लेकर एक नई बहस शुरू हो गई है कि कप्तान की यह कार्रवाई गलत है। वहीं, कुछ लोगों का कहना है कि पुलिस की नौकरी में नियम कायदों का पालन करना जरूरी होता है। दरोगा ने ड्रेस कोड का पालन नहीं किया। इसीलिए उन पर सही कार्रवाई की गई है।

Tags
Show More

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Close