Breaking NewsBusinessFoodsTop Newsउत्तर प्रदेशक्राइमछोटा पर्दादेशनई दिल्लीपंजाबबिहारमनोरंजनमहाराष्ट्रराजनीतिवायरलव्यापारसिनेमासोशल मीडियाहरियाणा

किसानों को आतंकवादी कहने पर कर्नाटक की एक अदालत ने अभिनेत्री कंगना राणावत पर एफआईआर दर्ज करने का दिया आदेश

अपने बयानों को लेकर चर्चा में बनी रहने वाली
बॉलीवुड अभिनेत्री कंगना राणावत को अपने एक बयान को लेकर मुसीबत का सामना करना पड़ सकता है। हर मुद्दे पर बेबाकी से अपनी राय रखने वाली कंगना राणावत ने कृषि कानून का विरोध कर रहे किसानों को लेकर एक‌ विवादित ट्वीट किया था। जिसके बाद किसानों को आतंकवादी कहने कंगना राणावत के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई थी। अब इसी मामले पर कर्नाटक में उनपर एक और एफआईआर हुई है।

जानकारी के मुताबिक, कर्नाटक के टुमकुरु जिले की एक जिला अदालत के आदेश पर पुलिस ने कंगना राणावत के खिलाफ सोमवार को एफआईआर दर्ज कर ली है।

वकील एल. रमेश नाइक की तरफ से की गई शिकायत के आधार पर ज्यूडिशियल मजिस्ट्रेट फर्स्ट क्लास (जेएमएफसी) ने क्याथासांद्रा पुलिस स्टेशन के इंस्पेक्टर को कंगना राणावत के खिलाफ एफआईआर करने के लिए कहा था। इस पूरे मामले पर कोर्ट का कहना था कि कि शिकायतकर्ता ने सीआरपीसी की धारा 155 (3) के तहत आवेदन देकर जांच की मांग की है। नाइक भी क्याथासांद्र से आते हैं, उन्होंने एक्ट्रेस के खिलाफ आपराधिक केस के बारे में मीडिया से कहा कि कोर्ट ने अधिकार क्षेत्र में आने वाले पुलिस स्टेशन से कहा कि वे एक्ट्रेस कंगना राणावत के खिलाफ एफआईआर दर्ज कर जांच शुरू करें।

बता दें कि बॉलीवुड अभिनेत्री कंगना राणावत ने 21 सितंबर को अपने ट्विटर हैंडल @KanganaTeam से ट्वीट करते हुए लिखा था, ‘जिन लोगों ने CAA पर गलत जानकारी और अफवाहें फैलाईं, जिसकी वजह से हिंसा हुईं, वही लोग अब किसान विरोधी बिल पर गलत जानकारी फैला रहे हैं, जिससे राष्ट्र में डर है। वे आतंकी हैं।’

एडवोकेट नाइक ने कहा कि इस ट्वीट ने ठेस पहुंचाया है, जिसके चलते उन्हें कंगना राणावत के खिलाफ केस फाइल करने पर मजबूत होना पड़ा है।

Tags
Show More

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Close