Breaking NewsTop Newsउत्तर प्रदेशक्राइमदेशनई दिल्लीराजनीतिवायरलसोशल मीडिया

उत्तर प्रदेश में कांग्रेस ने दिया रेप के आरोपी को टिकट, विरोध करने पर कार्यकर्ताओं ने महिला नेत्री के साथ की मारपीट

कोलोनाकाल में बिहार विधानसभा चुनाव की तैयारियां जोरों पर चल रही है किन्तु देश में अलग-अलग सीटों पर उपचुनाव को लेकर भी बहुत खींचतान देखने को मिल रही है। उत्तर प्रदेश में नवंबर में होने वाले आगामी उपचुनाव में देवरिया सीट से टिकट न मिलने से नाराज़ कांग्रेस की महिला नेता तारा यादव ने शनिवार शाम को एक कार्यक्रम में प्रदेश के सेक्रेट्री इंचार्ज सचिन नाइक पर गुस्से में गुलदस्ता फेंक कर मारा, जिसके बाद वहां मौजूद कांग्रेस पार्टी के ही कार्यकर्ताओं ने उनकी पिटाई कर दी। सोशल मीडिया पर इस पूरे घटनाक्रम का वीडियो वायरल होने के बाद सत्ताधारी पार्टी बीजेपी ने कांग्रेस पर निशाना साधते हुए महिला सुरक्षा को चर्चा में ला दिया है।

इस पूरे घटनाक्रम पर बीजेपी ने कांग्रेस पार्टी पर आक्रामक बयानबाजी शुरू कर दी है। केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर ने ट्वीट करते हुए लिखा ‘कांग्रेस में महिला कार्यकर्ता की पिटाई कर दी गई है अब ‘अवाॅर्ड वापसी गैंग’, तथाकथित फेमिनिस्ट कहां हैं। अब महिला सुरक्षा की बात कहां है ?

साथ ही, केंद्रीय मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने ट्वीट किया- जब बलात्कर आरोपी को टिकट देने के विरुद्ध एक महिला कार्यकर्ता ने आपत्ति जताई तो देवरिया में कांग्रेस के नेताओं ने जमकर उनकी पिटाई कर दी। महिला आयोग को इस मामले को संज्ञान में लेते हुए आरोपियों के ख़िलाफ़ सख्त कार्यवाई करनी चाहिए।

महिला आयोग की अध्यक्ष रेखा शर्मा ने इस मामले पर टिप्पणी करते हुए कहा, ‘तब जब हम बात कर रहे हैं कि अधिक से अधिक महिलाओं को राजनीति में शामिल होना चाहिए, राजनीतिक पार्टी के लोग महिला के साथ गुंडो जैसा व्यवहार कर रहे हैं।’ रेखा शर्मा ने आगे कहा, ‘ हमने घटना का संज्ञान लिया है जिसमें महिला को पार्टी के 25 कार्यकर्ताओं ने पीटा है। यह एक गंभीर मामला है।’ रेखा शर्मा ने कहा कि यह समय है कि उन लोगों को ‘दंडित’ किया जाए।

उत्तर प्रदेश के देवरिया में कांग्रेस पार्टी कार्यालय में महिला नेत्री तारा देवी के साथ मारपीट करते हुए कांग्रेस पार्टी के कार्यकर्ता

इस मामले पर अपना पक्ष रखते हुए कांग्रेस की नेत्री तारा ने मीडिया से बात करते हुए कहा, ‘एक तरफ, हमारी पार्टी के नेता हाथरस केस में पीड़िता के लिए न्याय की मांग कर रहे हैं और लड़ रहे हैं, और दूसरी तरफ, एक बलात्कारी को पार्टी का टिकट दिया जा रहा है। यह गलत निर्णय है। यह हमारी पार्टी की छवि को खराब करेगा।’ वह आगे कहती हैं कि मैं कांग्रेस को बीजेपी नहीं बनने दे सकती हूं। उन्होंने आगे कहा कि भाजपा में सेंगर जैसे बलात्कारी हैं।

बता दें कि 3 नवंबर को उत्तर प्रदेश की 7 सीटों पर होने वाले उपचुनाव के लिए कांग्रेस पार्टी ने देवरिया सीट से मुकुंद भाष्करमणि त्रिपाठी को अपना प्रत्याशी घोषित किया है। जिला कांग्रेस कार्यालय में शनिवार को उनके स्वागत में समारोह आयोजित किया गया था। इस दौरान यूपी के सेक्रेटरी इंचार्ज सचिन नाइक भी मौजूद थे। समारोह में देवरिया की कांग्रेस नेता तारा यादव ‘बुके’ लेकर पहुंची थी जहां तारा यादव ने सचिन से कहा कि गलत आदमी को टिकट क्यों दिया गया। बताया जा रहा है कि इतना कहते ही वह सचिन नाइक से उलझ गईं और उन पर गुलदस्ता फेंक दिया जिसके बाद वहां मौजूद कार्यकर्ताओं ने उनके साथ मारपीट की। इसके बाद मीडिया से बात करते हुए कांग्रेसी नेता तारा देवी ने कहा-‘कांग्रेस प्रत्याशी मुकुंद भास्कर पर रेप का आरोप है। उन्हें क्यों टिकट दिया गया। हम चाहते हैं कि साफ सुथरी छवि के लोगों को टिकट दिया जाए। यही बात करने के लिए वह सेक्रेटरी इंचार्ज सचिन नायक से मिलने पहुंची थी जहां प्रत्याशी के समर्थकों ने उससे मारपीट की।’

मुकुंद भाष्करमणि त्रिपाठी के मुताबिक उन पर कोई रेप का मुकदमा नहीं चल रहा है। पार्टी ने उनकी काबिलियत और साफ छवि को ध्यान में रखते हुए टिकट दिया है। तारा देवी अभी 2 साल पहले पार्टी में आई हैं जबकि वह 25 साल से कांग्रेस में हैं। यूपी कांग्रेस के प्रदेश सचिव(संगठन) अनिल यादव ने पार्टी का बचाव करते हुए कहा है कि पार्टी इस मामले में दोषियों पर जल्द कार्यवाई करेगी। दोनों पक्षों की बात सुनकर इस पर फैसला लिया जाएगा।

Tags
Show More

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Close