Breaking NewsTop Newsक्राइमदेशनई दिल्लीराजनीतिवायरलसोशल मीडिया

दिल्ली में समुदाय विशेष की लड़की से प्रेम करने पर दलित युवक को मिली मौत, केजरीवाल सरकार पर उठे सवाल

देश की राजधानी दिल्ली में इंसानियत एक बार फिर शर्मसार हुई है। दिल्ली के आदर्श नगर इलाके में राहुल ने दूसरे धर्म की लड़की से मोहब्बत की थी, जिसके लिए लड़की के घर वालों ने उसे पीट-पीटकर मार दिया। शुरुआती जांच में मामला प्रेम प्रसंग का लग रहा है। लड़के को अपनी जिंदगी से इसलिए हाथ धोना पड़ा क्योंकि वह हिंदू समुदाय का था और लड़की मुस्लिम धर्म की थी। लड़के की हत्या का तीन नाबालिगों सहित कुल पांच लोगों पर लगा है जिसमें लड़की का भाई भी शामिल है। जानकारी के मुताबिक, दिल्ली पुलिस ने मनवर हुसैन, मोहम्मद राज सहित 3 नाबालिगों को गिरफ्तार कर लिया है। बीजेपी के दिल्ली प्रदेश अध्यक्ष आदेश कुमार गुप्ता ने शनिवार को पीड़ित परिवार से मुलाकात कर केजरीवाल सरकार से एक करोड़ रुपये मुआवजे की मांग की है। इसके अलावा आप पार्टी से बीजेपी में गए नेता कपिल मिश्रा ने युवक की हत्या को लेकर केजरीवाल सरकार से उसके परिवार को कानूनी सहायता देने की मांग की है। इसके अलावा बीजेपी ने फास्ट ट्रैक कोर्ट में मुकदमा चलाकर दोषियों को जल्द से जल्द सजा देने की मांग भी की है।

दिल्ली पुलिस ने मामले की गंभीरता को देखते हुए बयान जारी किया है कि इस मामले को सांप्रदायिक रूप से तूल न दिया जाए। दिल्ली पुलिस ने अपील कि है कि इस मामले को कोई और रुख ना दिया जाए, जिससे इलाके की शांति व्यवस्था भंग हो। ये दो परिवारों का मामला था, जिसमें विक्टिम राहुल की मौत हुई और इस मामले में 5 मुजरिम गिरफ्तार कर लिए गए हैं। पुलिस ने कहा कि इस मामले को लेकर कोई गलत जानकारी या भ्रम न फैलाएं।

बीजेपी नेता कपिल मिश्रा ने एक वीडियो संदेश जारी करते हुए कहा कि, ये घटना पूरी तरह से निंदनीय है, दलित युवक राहुल को एक विशेष समुदाय के लोगों ने मार-मार कर अधमरा कर दिया और बाद में उसकी अस्पताल में मृत्य हो गई। तुष्टिकरण की राजनीति करने वाले मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल अभी तक मौन धारण किये हुए हैं। मुख्यमंत्री केजरीवाल पीड़ित के परीवार को अविलंब मुआवजा दें।
बीजेपी दिल्ली अध्यक्ष आदेश कुमार गुप्ता ने कहा कि, 2018 में अंकित सक्सेना के साथ भी ऐसे हुआ था। उस घटना को फिर दोहराया गया है।

दिल्ली के उप-मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया दिवंगत छात्र राहुल के पिता को सांत्वना देते हुए

दिल्ली के उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया शनिवार को आदर्श नगर में दिवंगत छात्र के परिजनों से मिले। उप-मुख्यमंत्री सिसोदिया ने मुलाकात के बाद पीड़ित परिवार के लिये 10 लाख रुपये मुआवजा देने की घोषणा करते हुए कहा कि दिल्ली सरकार इस मामले में अच्छे वकीलों को नियुक्त कर दोषियों को जल्दी से जल्दी सजा दिलवाने का प्रयास करेगी। सिसोदिया ने कहा कि छात्र आईपीएस अधिकारी बनना चाहता था। इस पूरे घटनाक्रम पर आम आदमी पार्टी के आदर्श नगर विधायक पवन शर्मा का कहना है, जिस दिन ये घटना हुई उस दिन हम खुद स्थानीय पुलिस के पास गए थे। मामले में एफआईआर दर्ज कराते हुए आरोपियों को गिरफ्तार कराया। अंतिम संस्कर में हम खुद मौजूद थे। हम राहुल के परिवार के साथ खड़े हैं। इस मामले को जातीय रंग ना दिया जाए। सीएम अरविंद केजरीवाल तुष्टीकरण की राजनीति नहीं करते हैं।

मृतक राहुल के परिजनों का आरोप है कि राहुल की एक गैर-हिंदू लड़की से दोस्ती थी, लेकिन लड़की का परिवार राहुल को पसंद नहीं करता था क्योंकि वो दूसरे धर्म से था। लड़की के घरवालों ने राहुल को बच्चों को ट्यूशन पढ़ाने के बहाने फोन कर घर बुलाया और जैसे ही घर से कुछ दूरी पर पहुंचा तो घात लगाए बैठे आरोपियों ने उसकी पीट-पीटकर हत्या कर दी।

Tags

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Close