Breaking NewsTop Newsक्राइमदेशबिहारराजनीतिराजस्थानवायरलसोशल मीडिया

राजस्थान में मंदिर की जमीन पर कब्जा करने को लेकर दबंगों ने पुजारी को पेट्रोल डाल जिंदा जलाया, इलाज के दौरान मौत

राजस्थान में मंदिर के जमीन विवाद में एक पुजारी को जिन्दा जलाकर मारने का मामला सामने आया है। राजस्थान के खरौली जिले के बुकना गांव में मंदिर के जमीन विवाद में कुछ दबंगों ने पुजारी को जिंदा आग के हवाले कर दिया। गंभीर रूप से जख्मी पुजारी को एक अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां गुरुवार रात को इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई। पुलिस ने मुख्य आरोपी कैलाश मीणा को गिरफ्तार किया है। घटना गुरुवार की बताई जा रही है।

करौली के एसपी मृदुल कच्छवा ने बताया कि मरने से पहले मंदिर के पुजारी बाबूलाल ने अस्पताल में पुलिस को एक बयान दिया कि आरोपी कैलाश मीणा और उनके बेटों सहित कुछ प्रभावशाली लोगों ने उनकी जमीन को अतिक्रमण करने की कोशिश की और विवाद के दौरान आरोपियों ने उस बाड़ को आग लगा दी, जिसमें पुजारी गंभीर रूप से जल गए थे। स्थानीय पुलिस ने मामला दर्ज कर आगे की कार्रवाई शुरू कर दी है। पुलिस ने पुजारी के बयान के आधार पर मुख्य आरोपी कैलाश मीणा को गिरफ्तार किया है। फिलहाल, अन्य आरोपी गिरफ्त से बाहर बताए जा रहे हैं। एफएसएल की टीम ने भी मौके पर पहुंचकर सबूत एकत्रित किए हैं।

पुलिस ने बताया कि पुजारी बाबूलाल वैष्णव ने पर्चा बयान में बताया कि मेरा परिवार 15 बीघा मंदिर की जमीन पर खेती करता था। बयान में बताया गया कि आरोपी कैलाश, शंकर और नमो मीणा ने उसके बाड़े में कब्जा कर लिया। पंच-पटेलों ने पुजारी के अलावा किसी अन्य व्यक्ति की ओर से मंदिर की जमीन पर कब्जा ना करने का फरमान दिया था। जिसके बाद बुधवार को कैलाश, शंकर, नमो, किशन, रामलखन परिवार ने उसके बाड़े पर कब्जा कर छप्पर तानने लग गए। जिस दौरान हुई कहासुनी में आरोपियों ने पुजारी पर पेट्रोल छिड़क आग लगा दी थी।

Tags
Show More

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Close