Breaking NewsTop Newsदेशबिहारराजनीतिवायरलसमय विशेषसोशल मीडिया

देश में पहली बार एक ट्रांसजेंडर बनेंगी पीठासीन अधिकारी, बिहार चुनाव में निभाएंगी ड्यूटी

बिहार में विधानसभा चुनाव का बिगुल बज चुका है। अब देखते-देखते इस चुनाव में नए-नए कीर्तिमान स्थापित होते रहेंगे। चुनाव आयोग द्वारा मतदान की तारीखों का ऐलान करते ही कीर्तिमान बनने की शुरुआत हो चुकी है। बता दें कि राजधानी पटना की ट्रांसजेंडर मोनिका दास को बिहार विधानसभा चुनाव में पीठासीन पदाधिकारी बनाया जाएगा। देश में पहली बार किसी ट्रांसजेंडर को मतदान कार्य के लिए पीठासीन पदाधिकारी बनाया जा रहा है। गौरतलब है कि मोनिका दास केनरा बैंक में अधिकारी पद पर कार्यरत हैं।

पटना की रहने वाली मोनिका दास देश की पहली ट्रांसजेंडर बैंकर की उपलब्धि हासिल किए हुए हैं। जानकारी के मुताबिक, पीठासीन पदाधिकारी के तौर पर मोनिका दास एक बूथ की पूरी जिम्मेवारी संभालेंगी। जिसमें मतदान कराने से लेकर मॉनिटरिंग का काम होगा। पीठासीन अधिकारी के तौर पर आठ अक्टूबर को प्रशिक्षण दिया जाएगा। इससे पहले पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव में ट्रांसजेंडर रिया सरकार को पोलिंग ऑफिसर बनाया जा चुका है। रिया सरकार स्कूल में शिक्षिका हैं। बिहार विधानसभा में पहली बार किसी ट्रांसजेंडर को पीठासीन पदाधिकारी बनाया जा रहा है। इससे ट्रांसजेंडर समुदाय में खुशी की लहर है।

ट्रांसजेंडर समुदाय को समाज की मुख्यधारा से जोड़ने के लिए यह चुनाव आयोग की सकारात्मक पहल मानी जा रही है। चुनाव आयोग का प्रयास है कि जो ट्रांसजेंडर मुख्यधारा में शामिल नहीं हैं। उन्हें इस उपलब्धि से प्रेरणा मिलेगी। बता दें कि सुप्रीम कोर्ट से ट्रांसजेंडर को तीसरे लिंग के रूप में मान्यता मिलने के बाद समाज की मुख्यधारा से जोड़ने का प्रयास जारी है। राज्य में ट्रांसजेंडर को मुख्यधारा से जोड़ने के लिए किन्नर कल्याण बोर्ड बनाया जा चुका है। इसके अलावा पहली बार किन्नर महोत्सव भी मनाया गया है।

बता दें कि मोनिका दास पटना विश्वविद्यालय से लॉ में गोल्ड मेडलिस्ट रह चुकी हैं। इसके अलावा सौंदर्य प्रतियोगिता में फेस ऑफ पटना भी रह चुकी हैं। अब मोनिका देश की पहली पीठासीन पदाधिकारी होने का रिकॉर्ड भी अपने नाम कर चुकी हैं।

Tags
Show More

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Close