Breaking NewsTop Newsउत्तर प्रदेशक्राइमदेशनई दिल्लीबिहारराजनीतिवायरलसोशल मीडिया

ग्रेटर नोएडा पर राहुल गांधी-प्रियंका को रोकने पर हाथरस के लिए पैदल हुए रवाना, यूपी पुलिस ने कार्यकर्ताओं पर किया लाठीचार्ज

उत्तर प्रदेश के हाथरस में दलित लड़की के साथ हुई दरिंदगी की घटना के बाद अब सियासत गरमा चुकी है। बता दें कि उत्तर प्रदेश प्रभारी और कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी और राहुल गांधी पीड़ित परिवार से मिलने हाथरस के लिए रवाना हो चुके हैं। बताया जा रहा है कि यूपी कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू भी साथ में मौजूद हैं। ये सभी नेता पार्टी कार्यकर्ताओं के साथ दिल्ली-नोएडा-दिल्ली (डीएनडी) फ्लाईओवर के रास्ते हाथरस के लिए निकले हैं।

गुरुवार की सुबह खबर आई थी कि राहुल गांधी-प्रियंका गांधी पीड़ित परिवार से मिलने हाथरस जाने वाले हैं। हालांकि, इसके बाद स्थानीय प्रशासन की ओर से कहा गया था कि हाथरस में 1 सितंबर से 31 अक्टूबर तक कोरोनावायरस को देखते हुए धारा 144 लागू की गई है। उनके आने से पहले यूपी प्रशासन ने बड़ी संख्या में इकट्ठा होने पर रोक लगा दी थी और कई जगहों पर नाकेबंदी भी कर दी थी।

कांग्रेस के प्रदेश मीडिया संयोजक ललन कुमार ने मीडिया को बताया कि प्रियंका गांधी और राहुल गांधी हाथरस कांड के पीड़ित परिवार से मुलाकात करने जा रहे थे। रास्ते में ग्रेटर नोएडा पुलिस ने उनके काफिले को परी चौक इलाके में रोक लिया। उन्होंने बताया कि यमुना एक्सप्रेस वे पर रोके जाने के बाद प्रियंका और राहुल पैदल ही हाथरस के लिये रवाना हो गए, जहां उन्हें रोका गया था, वहां से हाथरस की दूरी 142 किलोमीटर है।

हाथरस के डी०एम० पी.के. लक्षकार ने बताया कि जिले में सीआरपीसी की धारा 144 के तहत निषेधाज्ञा लागू कर दी गई है, जो आगामी 31 अक्टूबर तक प्रभावी रहेगी। जिले की सभी सीमाएं सील कर दी गयी हैं। उन्होंने सभी से जिले में शांति व्यवस्था बनाए रखने की अपील की है।

Tags
Show More

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Close