Breaking NewsTop NewsWorldदेशवायरलसमय विशेषसोशल मीडिया

यमुना मेनन ने बेंगलुरु के नेशनल लॉ स्कूल के दीक्षांत समारोह में 18 गोल्ड मेडल जीतकर बनाया रिकॉर्ड

यह बात जगजाहिर है कि बेटियां अब हर क्षेत्र में अपने परिजनों और देश का नाम रोशन कर रही हैं चाहे यह क्षेत्र खेलों का मैदान हो, नौकरी करने के दौरान कार्यस्थल पर प्रतियोगिता हो या फिर पढ़ाई का क्षेत्र हो। इसी बात को सच साबित करते हुए बेंगलुरु के नेशनल लॉ स्कूल की बीए एलएलबी (ऑनर्स) प्रोग्राम की छात्रा यमुना मेनन ने 18 गोल्ड मेडल्स जीतकर एक विशेष रिकॉर्ड बना दिया है। छात्रा यमुना मेनन ने अपनी मेहनत और परिवार के सहयोग की सहायता से वो कर दिखाया है, जो आज तक कोई नहीं कर सका है।

18 गोल्ड मेडल जीतने वाली छात्रा यमुना मेनन (फाइल फोटो)

नेशनल लॉ स्कूल ऑफ इंडिया यूनिवर्सिटी में
27 सितंबर को आयोजित एनएलएसआईयू के 28वें वार्षिक दीक्षांत समारोह में यमुना मेनन को पुरस्कृत किया गया है। दीक्षांत समारोह में यमुना मेनन ने 18 मेडल्स जीते हैं। आधिकारिक बयान में कहा गया, “छात्रों की उपलब्धियों की मान्यता के रूप में विभिन्न शैक्षणिक कार्यक्रमों के ग्रेजुएट्स को 48 गोल्ड मेडल्स दिए गए। वहीं, बीए एलएलबी (ऑनर्स) में ग्रेजुएट करने वाली 20 वर्षीय छात्रा यमुना मेनन ने 18 गोल्ड मेडल्स अपने नाम किए। ये विश्वविद्यालय के इतिहास में किसी भी विद्यार्थी द्वारा गोल्ड मेडल प्राप्त करने का सबसे बड़ा रिकॉर्ड है।”

बता दें कि छात्रा यमुना मेनन ने प्रथम रैंक, मेधावी छात्र, शेष स्नातक छात्र, ओवरऑल टॉपर, सर्वश्रेष्ठ आउटगोइंग छात्र, सर्वश्रेष्ठ आउटगोइंग स्नातक छात्र, सर्वश्रेष्ठ आउटगोइंग महिला छात्र और अन्य उपलब्धियों के लिए कुल 18 मेडल्स जीते हैं। केरल की इस छात्रा ने नेशनल लॉ स्कूल ऑफ इंडिया यूनिवर्सिटी के पासआउट के लिए दिए गए 48 में से 18 स्वर्ण पदक जीतकर यह रिकॉर्ड बनाया है। केरल की एक विद्वान (कानूनी शिक्षा में बढ़ती पहुंच से बढ़ती विविधता) के रूप में, यमुना मेनन ने 2015 में 28 वीं रैंक के साथ CLAT के माध्यम से लॉ स्कूल में प्रवेश प्राप्त किया था। इस प्रवेश परीक्षा में उच्च रैंकिंग के लिए स्कॉलरशिप पाने वाले दो छात्रों में से एक यमुना मेनन थीं।

छात्रा यमुना मेनन ने कानून में पोस्ट ग्रेजुएशन के लिए कैम्ब्रिज यूनिवर्सिटी के Trinity College में सीट हासिल की है। तमिलनाडु टेक्सटाइल में Sumangali Scheme पर यमुना का पेपर कैम्ब्रिज लॉ रिव्यू में प्रकाशित हुआ था। वह इंडियन जर्नल ऑफ़ इंटरनेशनल इकोनॉमिक लॉ की एडिटर-इन-चीफ़ भी थीं।

लोकसभा अध्यक्ष ओम बिड़ला ने सोशल मीडिया पर यमुना मेनन को बधाई देते हुए ट्विट किया है, “नेशनल लॉ स्कूल ऑफ इंडिया यूनिवर्सिटी की यमुना मेनन विश्वविद्यालय के इतिहास में पहली ऐसी छात्रा हैं, जिन्होंने बीए-एलएलबी (ऑनर्स) में 18 गोल्ड मेडल्स जीते हैं। यमुना को हार्दिक बधाई। उनकी उपलब्धि अन्य छात्रों को भी प्रेरित करेगी।”

✍️ रिपोर्ट: दिनेश दिनकर

Tags
Show More

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Close