Breaking NewsLife StyleTop Newsगुजरातदेशवायरलसमय विशेषसोशल मीडिया

कोरोना पॉजिटिव होने पर ईश्वर का धन्यवाद किया गुजरात की इस महिला डॉक्टर ने, अब हैं पूरी तरह स्वस्थ

वैश्विक महामारी कोरोना वायरस से संक्रमित होने पर लगभग प्रत्येक मरीज ईश्वर से अपनी नाराज़गी ज़ाहिर करते हुए यही शिकायत करते हैं कि मैं इस लाइलाज बीमारी की चपेट में कैसे आ गया हूं। पता नहीं कि मैं अब इस बीमारी से बच पाऊंगा या नहीं? मेरे मरने के बाद मेरे परिवार का पता नहीं क्या होगा? ऐसे अनेक सवाल और शिकायतें कोविड-19 पॉजिटिव मरीज ईश्वर से करते रहते हैं। किंतु गुजरात के अहमदाबाद की डॉ० रुपल मधाणी ने अपनी कोविड-19 रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद‌ कहा कि यह मेरे लिए ईश्वर का आशीर्वाद है। मैं बहुत खुश हूं कि मैं कोरोना संक्रमित हुईं। लगातार 40 दिनों तक कोरोना से जूझने, सिटी स्कैन सहित 7 प्रकार के अलग-अलग मेडिकल टेस्ट करवाने के बाद उन्होंने यह कृतज्ञ भाव प्रकट किए हैं।

बता दें कि डॉ० रुपल मधाणी की सीटी स्कैन की रिपोर्ट में ब्रेस्ट कैंसर होने का पता चला जोकि शुरुआती दौर में है। अहमदाबाद मनपा में स्वास्थ्य अधिकारी के पद पर कार्यरत डॉ. रूपल मधाणी को कोरोना काल में ड्यूटी के दौरान संक्रमण हुआ था। लगातार 40 दिन तक संक्रमित रही। 21 अप्रैल को एसवीपी में भर्ती हुई किन्तु आराम नहीं हुआ, इसके बाद दूसरे अस्पताल में भर्ती होना पड़ा। इसी दौरान सीटी स्कैन करवाने पर पता चला कि उनके फेफड़े 75% तक प्रभावित हो चुके हैं। डॉ. अमित गुप्ता के सुझाव को मानते हुए डॉ० रूपल ने सीटी स्कैन करवाया। सीटी स्कैन सेंटर पर रिपोर्ट की जांच करने के बाद डॉक्टर ने ब्रेस्ट कैंसर होने की पुष्टि की। डॉ० रूपल मधाणी के अनुसार, मई – 2020 के अंतिम सप्ताह की बात है। तब सर्जरी बंद थीं। कैंसर विशेषज्ञ डॉ. डीजी विजय ने कहा कि सर्जरी से पहले जरूरी है कि आपकी कोरोना रिपोर्ट निगेटिव हो। 31 मई को 8वीं रिपोर्ट में पता चला कि मैं कोरोना से जीत गई हूं। इसके बाद मेमोग्राफी, ब्लड रिपोर्ट और बायोप्सी से कैंसर की पुन: पुष्टि हुई। 10 जून को सर्जरी होनी थी। करीब ढाई घंटे तक सर्जरी चली। लगातार ऑक्सीजन की जरूरत पड़ी। सर्जरी सफल रही। कोरोना और कैंसर होने से पहले मेरे मन में ईश्वर से बहुत सी शिकायतें थीं पर अब ऐसा नहीं है। कोरोना की जांच करने के चलते कैंसर की पहली ही स्टेज में पहचान हो गई, इसलिए मैं कोविड-19 संक्रमित होने पर भी ईश्वर के प्रति नाराजगी जाहिर करने की बजाय उन्हें धन्यवाद देना चाहूंगी। अब मुझे ब्रेस्ट कैंसर और कोरोना जैसी कोई गंभीर बीमारी नहीं है, मैं अब पूरी तरह स्वस्थ हूं।

Tags
Show More

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Close