Breaking NewsTop Newsक्राइमदेशवायरलसोशल मीडियाहरियाणा

पानीपत में पत्नी,साली और सास की हत्या कर नूर हुसैन ने साली और सास के शव के साथ किया दुष्कर्म, आरोपी गिरफ्तार

हरियाणा के पानीपत जिले के समालखा से तीन अलग-अलग जगहों से 7, 8 और 9 सितंबर को तीन महिलाओं के शव मिले थे। उनमें से दो शव अर्धनग्न हालात में थे। पुलिस ने हत्यारे का सुराग देने पर 75 हजार रुपये का इनाम घोषित कर रखा था। एसआईटी ने इन तीनों महिलाओं के ब्लाइंड मर्डर केस का पर्दाफाश कर दिया है। बता दें कि गिरफ्तार आरोपी नूर हुसैन अपनी पत्नी मधु के चरित्र पर शक करता था। इसी शक के चलते उसने पहले अपनी पत्नी, फिर साली और कुछ दिन बाद सास की हत्या कर दी। आरोपी को अदालत में पेश कर चार दिन के पुलिस रिमांड पर लिया गया है। पुलिस ने हत्या व शवों को खुर्द-बुर्द करने के आरोप में भारतीय दंड संहिता की धारा 302, 201 व 34 आई.पी.सी के तहत केस दर्जकर छानबीन शुरू कर दी थी।

बता दें कि वर्ष 2014 में सोनीपत के बैंयापुर गांव के नूर हुसैन ने सोनीपत के ही गामड़ी गांव की मधु (25) से प्रेम विवाह किया था। नूर हुसैन की दूसरी और मधु की ये तीसरी शादी थी।

शुरुआती पूछताछ में आरोपी ने बताया कि 4 सितंबर की शाम को वह फैक्ट्री से काम कर घर लौटा तो उसकी साली मनीषा(18) उसके बच्चों के साथ घर के बाहर बैठी थी। पास में एक बाइक सवार युवक खड़ा था जिससे वह बात कर रही थी। वह अंदर कमरे में गया तो पत्नी(25) को एक अन्य युवक के साथ आपत्तिजनक हालत में देख लिया। पुलिस को आरोपी नूर हुसैन ने आगे बताया कि दोनों युवकों के जाने के बाद कहासुनी में पत्नी व साली ने उसको थप्पड़ मार दिए। तभी उसने दोनों की हत्या करने की सोच ली थी। 5 सितंबर की रात को उसने पत्नी व साली को पास की दुकान से कोल्ड ड्रिंक लाने के लिए भेज दिया। इस दौरान उसने तीन-तीन नींद की गोली पीसकर उनके दोनों गिलास में डाल दी। इन्हीं गिलास में कोल्ड ड्रिंक डाली और पत्नी व साली को पिला दी। दोनों के बेहोश होने पर घर में रखी कुल्हाड़ी से पत्नी की गर्दन काट कर अलग कर दी। इसके बाद साली की गर्दन पर दो से तीन वार किए किंतु साली मरी नहीं और फर्श पर गिर गई। रसोई घर से चाकू लिया और साली की गर्दन पर वार किया। चाकू गर्दन में टूट गया और साली मर गई। पत्नी के शव को रजाई में लपेटा और बाइक पर बांधकर चुलकाना रेलवे फ्लाईओवर के नजदीक रेलवे लाइन पर फेंक पेट्रोल डालकर आग लगा दी। इसके बाद साली के शव को रजाई में लपेटा और बाइक पर डालकर चल दिया। साली के शव को भी वहीं जलाना चाहता था, जहां पत्नी का शव जलाया था। किंतु रास्ते में अचानक सामने से आ रही एक बाइक की लाइट लगी तो वह घबरा गया और शव को सीवर ट्रीटमेंट प्लांट में डालकर ऊपर से चार ईंट रख कर वहां से भाग गया, ताकि शव नीचे रह जाए।

8 सितंबर की रात को सास जमीला को सोनीपत के गामड़ी गांव से यह कहकर साथ में ले आया कि पत्नी व साली उसके साथ झगड़ा करती हैं। दोनों को समझा देना किंतु सास अपनी बेटियों की ही तरफदारी करने लगी। फिर भी मान-मनौव्वल के बाद सास आरोपी नूर हुसैन के साथ चलने को तैयार हो गई। बुड़शाम से दिवाना रोड पर रजवाहे के पास सास बाथरूम करने लगी। इसी दौरान सास की गला घोंटकर हत्या कर दी। शव पर पेट्रोल डालकर जला डाला। पुलिस ने 7 सितंबर को मनीषा, 8 सितंबर को कंकाल में तब्दील हो चुके मधु के शव को और 9 सितंबर को जमीला के शव को बरामद किया।

गिरफ्तार आरोपी नूर हुसैन (लाल घेरे में)

डीएसपी वत्स ने बताया कि एसआइटी में शामिल सीआइए-वन प्रभारी राजपाल सिंह की टीम ने बुधवार शाम को नूर हुसैन को दिवाना गांव के पास से गिरफ्तार किया। वहीं, आरोपी नूर हुसैन ने कबूल किया है कि उसने साली और सास के शव के साथ दुष्कर्म भी किया था। पुलिस ने वीरवार को आरोपी नूर हुसैन को कोर्ट में पेश किया और उसे चार दिन के पुलिस रिमांड पर लिया है। गहनता से पूछताछ की जा रही है। 28 सितंबर को उसे कोर्ट में पेश किया जाएगा।

Tags
Show More

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Close