Breaking NewsTop Newsदेशनई दिल्लीवायरलसमय विशेषसोशल मीडिया

नौसेना की दो महिला अधिकारी युद्धपोतों से पहली बार उड़ाएंगी हेलीकॉप्टर, सेना में इतिहास रच रही हैं महिला अधिकारी

अक्सर परिवार, समाज और कार्यस्थलों पर लड़कियों, महिलाओं को कमतर आंका जाता रहा है किन्तु समय-समय पर अनेक तरह की परीक्षाओं से गुजरते हुए भारत की बहादुर बेटियां इतिहास रचती रही हैं। पहली बार भारतीय नौसेना में 2 महिला अधिकारियों का हेलीकॉप्टर बेड़े में ‘ऑब्जर्वर’ (हवाई रणनीतिकार) के तौर पर चयन किया गया है जिससे अंतत: महिलाओं के अग्रिम मोर्चों पर मौजूद युद्धपोतों पर तैनाती का रास्ता साफ हो गया है। अब तक महिलाओं का प्रवेश केवल जमीनी ठिकाने से उड़ान भरने वाले विमानों तक ही सीमित था।

भारतीय नौसेना में सब लेफ्टिनेंट कुमुदिनी त्यागी

सब लेफ्टिनेंट कुमुदिनी त्यागी और सब लेफ्टिनेंट रीति सिंह, भारत में पहली प्रभावी हवाई रणनीतिकार बन रही हैं, जो युद्धपोत से हेलीकॉप्टर का परिचालन करेंगी। बता दें कि भारतीय नौसेना पहले से ही महिला अधिकारियों को भर्ती करती रही है। किंतु अब तक महिलाओं का प्रवेश केवल जमीनी ठिकाने से उड़ान भरने वाले विमानों तक ही सीमित था। बताया जा रहा है कि ये दो अधिकारी नौसेना के नए एमएच-60 आर हेलीकॉप्टरों में उड़ान भरेंगी। एमएच-60 आर हेलीकॉप्टरों को अपनी श्रेणी में दुनिया में सबसे अत्याधुनिक मल्टी-रोल हेलीकॉप्टर माना जाता है। इसे दुश्मन के पोतों और पनडुब्बियों को डिटेक्ट करने और उन्हें उलझाने के लिए डिजाइन किया गया है।

भारतीय नौसेना में सब लेफ्टिनेंट रीति सिंह

रक्षा मंत्रालय ने एक बयान में बताया कि दोनों महिला अधिकारी नौसेना के 17 अधिकारियों के एक समूह का हिस्सा हैं जिन्हें INS गरुड़ पर सोमवार को हुए समारोह में ‘ऑब्जर्वर’ के तौर पर पाठ्यक्रम पूरा करने के बाद ‘विंग’ से सम्मानित किया गया है। इस समूह में नौसेना की कुल 4 महिला अधिकारी और भारतीय तटरक्षक बल के 3 अधिकारी शामिल हैं। इस समूह में 13 अधिकारी नियमित बैच के थे जबकि 4 महिला अधिकारी शॉर्ट सर्विस कमीशन बैच की थीं।

एमएच 60 आर हेलिकॉप्टर (MH 60 R-Romeo Helicopter) के साथ भारतीय नौसेना की सब लेफ्टिनेंट कुमुदिनी त्यागी और सब लेफ्टिनेंट रीति सिंह

इस ऐतिहासिक समारोह की अध्यक्षता रियर एडमिरल एंटोनी जॉर्ज ने की, जो चीफ स्टाफ ऑफिसर (प्रशिक्षण) भी हैं। जॉर्ज ने ‘ऑब्जर्वर’ का पाठ्यक्रम पूरा करने वाले अधिकारियों को सम्मानित करते हुए प्रतिष्ठित विंग दिया। रियर एडमिरल एंटोनी ने इस तथ्य को रेखांकित किया कि यह ऐतिहासिक मौका है जब पहली बार महिलाओं को हेलीकॉप्टर का प्रशिक्षण दिया गया है जिससे अंतत: अग्रिम मोर्चों पर मौजूद युद्धपोतों पर महिला अधिकारियों की तैनाती का रास्ता साफ होगा।

भारतीय रक्षामंत्री राजनाथ सिंह एक समारोह में भारतीय नौसेना के वरिष्ठ अधिकारियों के साथ (फाइल फोटो)

बयान के मुताबिक 91 वें नियमित पाठ्यक्रम में 22वें एसएससी ‘ऑब्जर्वर’ पाठ्यक्रम में हवाई नेविगेशन, उड़ान की प्रक्रिया, हवाईयुद्ध की रणनीति, पनडुब्बी रोधी युद्ध और विमान के इलेक्ट्रॉनिक उपकरणों संबंधी प्रशिक्षण दिया गया। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि ने छह अधिकारियों (महिला अधिकारी सहित नौसेना के पांच अधिकारी और एक तटरक्षक बल का अधिकारी) को सफलतापूर्वक योग्य नेविगेशन प्रशिक्षक पाठ्यक्रम पूरा करने पर प्रशिक्षक बैच से सम्मानित किया।

✍️ दिनेश दिनकर

Tags
Show More

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Close