Breaking NewsBusinessTop Newsदेशनई दिल्लीबिहारराजनीतिवायरलसोशल मीडिया

राज्यसभा में किसान बिल को लेकर हंगामा करने वाले 8 विपक्षी सांसदों को एक सप्ताह के लिए सदन से किया निलंबित

कृषि विधेयकों को लेकर रविवार को पूरे भारत में किसान वर्ग सड़कों पर आकर अपना विरोध दर्ज कराते रहें और वहीं राज्यसभा में यह बिल पास हो गया। रविवार को राज्यसभा में हंगामा करने वाले विपक्ष के 8 सदस्यों को सभापति वेंकैया नायडू ने एक हफ्ते के लिए सदन से निलंबित कर दिया है।
विपक्ष के इन सदस्यों को किया गया सस्‍पेंड:
• डेरेक ओ’ब्रायन (तृणमूल कांग्रेस)
• संजय सिंह (आम आदमी पार्टी)
• राजू साटव (कांग्रेस)
• केके रागेश (सीपीआई-एम)
• रिपुण बोरा (कांग्रेस)
• डोला सेन (तृणमूल कांग्रेस)
• सैयद नासिर हुसैन (कांग्रेस)
• एलमाराम करीम (सीपीआई-एम)

इसके साथ ही विपक्ष द्वारा लाए गए राज्यसभा के उपसभापति हरिवंश के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव को भी सभापति ने खारिज कर दिया है। उन्होंने कहा कि कल का दिन राज्यसभा के लिए सबसे खराब दिन था। कुछ सदस्यों के आचरण ने शिष्टाचार की सभी सीमाओं को पार कर दिया, जिससे सदन की प्रतिष्ठा को नुकसान पहुंचा। कुछ सदस्‍य तो सदन के वेल तक आ गए। उपसभापति के साथ धक्‍कामुक्‍की की गई। उन्‍हें अपना काम करने से रोका गया। यह बेहद दुर्भाग्‍यपूर्ण और निंदनीय है। मैं सांसदों को सुझाव देता हूं, कृपया थोड़ा आत्‍मनिरीक्षण कीजिए।’ राज्यसभा के सभापति एम वेंकैया नायडू ने कल रविवार को राज्यसभा में हंगामा करने वाले विपक्षी सांसदों पर कर्रवाई करते हुए उन्हों एक हफ्ते के लिए सत्र से निलंबित कर दिया है। सभापति ने कहा कि अगर कल मार्शल्स को सही समय पर नहीं बुलाया जाता तो उपाध्यक्ष के साथ क्या होता ये सोचकर मैं परेशान हूं।

गौरतलब है कि राज्यसभा में सत्र के दौरान कल रविवार को कृषि से जुड़े दो विधेयकों के पास होने के दौरान विपक्ष के सांसदों ने जोरदार हंगामा किया। इस दौरान टीएमसी नेता डेरेक ओ ब्रायन ने तो रूल बुक ही फाड़ दी। विपक्षी दलों ने हरिवंश पर संसदीय नियमों और परंपराओं की धज्जियां उड़ाते हुए जबरन बिल पारित कराने का आरोप भी लगाया। डेरेक ओ ब्रायन ने आरोप लगाते हुए कहा कि संविधान ने सांसदों को जो अधिकार दिया है उसे आज सदन में छीना गया।

Tags
Show More

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Close