Breaking NewsTop Newsक्राइमदेशराजनीतिराजस्थानवायरलसोशल मीडिया

बिना जांच राजस्थान महिला आयोग की पूर्व अध्यक्ष कोरोना पॉजिटिव बताई गई, कोरोना जांच सवालों के घेरे में

देश में मंगलवार को कोरोना मरीजों की संख्या बढ़कर 50 लाख के पार पहुंच गई है। वहीं अकेले राजस्थान में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या एक लाख पांच हजार से अधिक हो गई है। बता दें कि राजस्थान में कोरोना जांच अब सवालों के घेरे में आने लगी है। जानकारी के मुताबिक, कुछ दिनों पहले जयपुर के मालवीय नगर क्षेत्र में कोरोना जांच के सैंपल लिए गए थे। जिसमें राजस्थान महिला आयोग की पूर्व अध्यक्ष सुमन शर्मा के परिवार के सदस्यों के भी सैंपल लिए गए थे। लेकिन इस दौरान उपवास होने की वजह से सुमन शर्मा ने टेस्ट नहीं करवाया, लेकिन जब रिपोर्ट आई तो परिवार के अन्य सदस्य नेगेटिव निकले और टेस्ट नहीं करवाने वाली सुमन शर्मा की कोविड-19 रिपोर्ट पॉजिटिव आई।

महिला आयोग की पूर्व अध्यक्ष सुमन शर्मा ने बताया कि उनके पति के मोबाइल पर मैसेज आया कि सुमन शर्मा कोरोना पॉजिटिव हैं। इसके बाद सुमन शर्मा ने राज्य सरकार पर सीधे सवाल खड़े कर दिए। उन्होंने कहा कि मैं सीएम और चिकित्सा मंत्री से पूछना चाहती हूं कि ये क्या तमाशा हो रहा है प्रदेश में। राजस्थान की सरकारी संस्थाओं पर विश्वास करें या नहीं।

राजस्थान की पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे के साथ महिला आयोग की पूर्व अध्यक्ष सुमन शर्मा (फाइल फोटो)

इसी परिवार से जुड़ी कोरोना जांच रिपोर्ट में
एक और चौंकाने वाली खबर का खुलासा किया। जिसमें सुमन शर्मा ने बताया कि मेरे देवर ने भी कोरोना टेस्ट कराया था। सरकारी जांच में वो पॉजिटिव बताए गए, जबकि हमने जब प्राइवेट टेस्ट करवाया तो रिपोर्ट निगेटिव आई। शर्मा का कहना है कि सरकार की ओर से हो रहे इस गड़बड़झाले का खुलासा होना चाहिए। साथ ही, इस वैश्विक महामारी के चलते लापरवाह कर्मचारियों, अधिकारियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई होनी चाहिए।

Tags
Show More

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Close