Breaking NewsTechTop NewsWorldदेशनई दिल्लीवायरलसोशल मीडियाहरियाणा

राफेल लड़ाकू विमान आज अंबाला एयरबेस पर एयरफोर्स में हुए शामिल, रक्षामंत्री ने बताया ऐतिहासिक उपलब्धि

29 जुलाई को अंबाला एयरबेस पहुंचें 5 राफेल लड़ाकू विमानों को आज विधिवत रूप से पूजा करते हुए एयरफोर्स में शामिल कर लिया गया है। सीमा पर तनाव के बीच आज भारतीय वायुसेना को अब नई ताकत मिल चुकी है। राफेल लड़ाकू विमानों को अंबाला एयरबेस पर 17 स्कवॉड्रन ‘गोल्डन ऐरोज़’ में शामिल किया गया है। भारतीय रक्षामंत्री राजनाथ सिंह और फ्रांस की रक्षामंत्री फ्लोंरेस पार्ले की मौजूदगी में राफेल को वायुसेना में शामिल किया गया है। भारत के लिए इस उपलब्धि को काफी महत्वपूर्ण माना जा रहा है। राफेल के भारतीय वायुसेना में शामिल होने के बाद दुश्मनों के खिलाफ बड़ी बढ़त के तौर पर देखा जा रहा है।

बता दें कि अंबाला एयरबेस पर सभी राफेल लड़ाकू विमानों को वाटर कैनन से सलामी दी गई। फ्लाईपास्ट के शुरू होने के साथ ही 4.5 पीढ़ी का लड़ाकू विमान राफेल आसमान में करतब भी दिखाता रहा। राफेल लड़ाकू विमानों के भारतीय वायुसेना में शामिल होने के बाद हुए एयर शो में सुखोई, जगुआर, देश में निर्मित स्वदेसी तेजस जैसे लड़ाकू विमान शामिल रहें। 5 धर्मों के धर्मगुरुओं ने राफेल को वायुसेना में सम्पूर्ण पूजा पाठ के साथ शामिल कराया। रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, फ्रांस की रक्षा मंत्री, सीडीएस बिपिन रावत, एयरफोर्स चीफ भदौरिया इस मौके पर मौजूद रहे। जानकारी के मुताबिक, फ्रांस की रक्षामंत्री को भारत आगमन पर पालम हवाईअड्डे पर गार्ड ऑफ ऑनर दिया गया।

29 जुलाई को 5 राफेल लड़ाकू विमान 2 सुखोई विमानों के एस्कॉर्ट में अम्बाला एयरबेस पहुंचे थे (फाइल फोटो)

इस मौके पर रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा, “राफेल विमान का भारतीय वायुसेना में शामिल होना पूरी दुनिया के लिए एक कड़ा संदेश है, खासकर उनके लिए जो हमारे हक पर नजर डाल रहे हैं। मैं वायुसेना के साथियों को बधाई देता हूं। हाल ही में एलएसी पर हुई दुर्भाग्यपूर्ण घटना के दौरान आपने जो तेजी और सतर्कता दिखाई, उससे आपके कमिटमेंट का पता चलता है।”

 

गौरतलब है कि 17 साल बाद देश का रक्षा मंत्री अम्बाला एयरफोर्स स्टेशन पर किसी बड़े समारोह में शामिल हुआ है। इससे पहले अगस्त 2003 में एनडीए सरकार में रक्षा मंत्री रहे जॉर्ज फर्नांडिस ने 73 की उम्र में अम्बाला से मिग-21 बाइसन में उड़ान भरी थी। वहीं वायुसेना प्रमुख आरकेएस भदौरिया ने कहा, “सुरक्षा की मौजूदा स्थिति को देखते हुए राफेल लड़ाकू विमान को शामिल करने का इससे अच्छा समय कोई और नहीं हो सकता था।”

भारत के रक्षामंत्री राजनाथ सिंह और फ्रांस की रक्षामंत्री फ्लोंरेस पार्ले राफेल इंडक्शन समारोह के दौरान उपस्थित रहे

फ्रांस की रक्षा मंत्री फ्लोरेंस पार्ले ने कहा, “आज का दिन भारत-फ्रांस के लिए एक उपलब्धि है। हम अपने रक्षा संबंधों के इतिहास में नया चैप्टर लिख रहे हैं। हम मेक इन इंडिया अभियान के लिए भी कमिटेड हैं। फ्रांस संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद (यूएन सिक्योरिटी काउंसिल) में भारत की उम्मीदवारी का समर्थन करता है।”

Tags
Show More

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Close