Breaking NewsTop NewsTravelWorldखेलदेशनई दिल्लीवायरलसोशल मीडियाहिमाचल प्रदेश

22,222 फीट ऊंची चोटी लियो पारगिल को फतह करते हुए आईटीबीपी ने लहराया तिरंगा झंडा

भारतीय सीमा पर तैनात देश के बहादुर सैनिक देशवासियों की सुरक्षा का जिम्मा बखूबी संभाले हुए हैं। साथ ही, विभिन्न तरीकों से हम देशवासियों को गौरवान्वित महसूस करवाने के अवसर उपलब्ध कराते रहते हैं। बता दें कि भारत-तिब्बत सीमा पुलिस (आईटीबीपी) के जवानों ने एक बार फिर इतिहास रच दिया है। हिमाचल प्रदेश में आईटीबीपी के जवानों ने 22,222 फुट की ऊंचाई पर स्थित लियो पारगिल की चोटी पर सफलतापूर्वक तिरंगा फहराते हुए हर भारतीय को गौरवान्वित महसूस करवाया है। कमांडेंट देवेंद्र कुमार ने बताया कि 20 अगस्त, 2020 को उपमहानिरीक्षक क्षेत्रीय मुख्यालय शिमला प्रेम सिंह ने आईटीबीपी 17वीं भारत तिब्बत सीमा पुलिस बल के प्रांगण से पर्वतारोही दल को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया था। इस दल का नाम लियो पारगिल चोटी योद्धा 2020 रखा था।

गौरतलब है कि लियो पारगिल की चोटी हिमाचल प्रदेश की तीसरी सबसे ऊंची चोटी है। 31 अगस्त 2020 को किया यह कोरोना काल का पहला माउंट एक्पीडिशन था, जिसे आईटीबीपी के जवानों ने सफलतापूर्वक अंजाम दिया‌ है। सेक्टर हेड क्वॉर्टर आईटीबीपी शिमला से आईटीबीपी की 16 सदस्यीय टीम के कुल 12 सदस्य सफलतापूर्वक चोटी पर चढ़ गए।

इस बेहद चुनौतीपूर्ण अभियान के लीडर डिप्टी कमांडेंट कुलदीप सिंह थे और डिप्टी कमांडेंट धर्मेंद्र इस अभियान के डिप्टी लीडर थे। आईटीबीपी पर्वतारोही दल में हेड कॉन्स्टेबल प्रदीप नेगी भी शामिल थे, जिन्होंने दूसरी बार चोटी फतेह की है। प्रदीप नेगी इससे पहले दुनिया के सबसे ऊंचे पर्वत- माउंट एवरेस्ट पर दो बार चढ़ चुके हैं।

लियो पारगिल चोटी को भारत की सबसे कठिन और तकनीकी चोटी में से एक माना जाता है. हालांकि इस टीम के सदस्यों ने पूरी ट्रैनिंग ली थी और यह अभियान वैश्विक महामारी कोविड-19 के चलते और भी कठिन था लेकिन, इसे दिशा-निर्देशों का कड़ाई से पालन करते हुए सफलतापूर्वक अंजाम दिया है। बता दें कि यह बर्फ से ढकी हुई कठिन चोटी हिमाचल प्रदेश के दूरस्थ लाहौल स्पीति जिले में स्थित है। इस सुदूर हिमालयन में कम ऑक्सीजन, अत्यधिक ठंड और अत्यधिक ऊंचाई मौजूद है। आईटीबीपी को सबसे योग्य और कठिन बल के रूप में माना जाता है क्योंकि यह अत्यधिक ठंड वाले ऊंचाई वाले इलाकों और जलवायु परिस्थितियों में काम कर रहा है। आईटीबीपी सबसे फिट फौज मानी जाती है। यह अब तक पहाड़ी चोटियों पर चढ़ने के 213 अभियान पूरे कर चुकी है। यह भी अपने आप में रिकॉर्ड है।

 

Tags
Show More

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Close