Breaking NewsTop NewsTravelदेशनई दिल्लीराजनीतिवायरलसोशल मीडिया

एयरपोर्ट पर हिन्दी नहीं बोलने पर डीएमके सांसद कनिमोझी से CISF अफसर ने पूछा – ‘क्या आप भारतीय हैं’ ?

डीएमके सांसद कनिमोझी ने भाषाई आधार पर भेदभाव का सामना करने पर आरोप लगाया है कि सीआईएसएफ के एक अधिकारी ने हिंदी न बोल पाने के कारण उनसे पूछा कि क्या वो भारतीय हैं? बता दें कि सीआईएसएफ ने इस मामले की जांच के आदेश दे दिए हैं।

कनिमोझी के साथ यह घटना तब हुई, जब कनिमोझी दिल्ली जाने के लिए चेन्नई अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट पर थीं। उन्होंने ट्वीट करते हुए लिखा, “आज एयरपोर्ट पर सीआईएसएफ के अधिकारी ने मुझसे पूछा- क्या मैं भारतीय हूं। मैंने अधिकारी से तमिल या अंग्रेजी में बात करने को कहा था, क्योंकि मुझे हिंदी नहीं आती।” उन्होंने #hindiimposition (हिंदी थोपना) के साथ एक और ट्वीट किया। लिखा- मैं यह जानना चाहती हूं कि कब से हिंदी जानने का मतलब भारतीय होना हो गया।” कनिमोझी ने आगे लिखा, “सिर्फ इसलिए कि आप किसी एक धर्म से ताल्लुक नहीं रखते हैं या एक विशेष भाषा नहीं बोलते हैं तो आप कमतर भारतीय नहीं बन जाते। मुझे लगता है कि इस देश की महानता इसकी विविधता है। कहीं न कहीं हम ये खो रहे हैं।”

सीआईएसफ हेडक्वॉर्टर ने इस मामले पर ट्वीट करते हुए कनिमोझी के साथ भाषाई आधार पर हुई घटना की जांच कराने का आश्वासन दिया है। सीआईएसफ ने ट्वीट करते हुए कहा, @CISFHQrs की ओर से हार्दिक बधाई। हम ईमानदारी से आपके इस अप्रिय अनुभव को स्वीकार करते हैं। कृपया इस मामले में उचित कार्रवाई के लिए एयरपोर्ट, स्थान, तिथि और घटना के समय का यात्रा विवरण साझा करें।” गौरतलब है कि सीआईएसएफ गृह मंत्रालय के अधीन सेंट्रल आर्म्ड पुलिस फोर्स है।

द्रमुक की लोकसभा सदस्य कनिमोई ने इस घटना पर तत्काल जवाब देने और कार्रवाई करने का आश्वासन दिये जाने पर सीआईएसएफ का शुक्रिया अदा किया।

कनिमोझी तमिलनाडु के तूतुकुड़ी से सांसद हैं। वह डीएमके की महिला शाखा की सेक्रेटरी भी हैं।

Tags
Show More

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Close