Breaking NewsTop Newsउत्तर प्रदेशदेश

बकरीद को लेकर योगी सरकार के दीये सख्त निर्देश,जानें क्या कर सकते हैं क्या नहीं !

देश भर में अगले हफ्ते बकरीद ( Bakrid ) का त्यौहार मनाया जाएगा, ऐसे में बाजारों में इसके लिये चहल-पहल भी दिखाई देने लगी। कोरोना के  बढ़ते संक्रमण के कारण सरकार ने दिशा निर्देश भी जारी करने शुरु कर दिये। ऐसा ही निर्देश सीएम योगी सरकार ने भी दिया है । जिसके तहत उत्तर प्रदेश सरकार ने बकरीद के दिन सामूहिक नमाज और खुले में कुर्बानी देने पर रोक लगा दी है।  कोरोना वायरस संक्रमण के बढ़ेत मामलों को देखते हुए योगी सरकार ने यह फैसला लिया है। बीते कुछ दिनों से राज्य में कोरोना के नए मामलों में काफी तेजी देखने को मिल रही है। उत्तर प्रदेश पुलिस की तरफ से जारी दिशा निर्देश में कहा गया है कि एक अगस्त को बकरीद के दिन राज्य के मस्जिदों में सामूहिक नमाज अता नहीं की जाएगी। इसके साथ ही खुले स्थानों पर कुर्बानी देने और खुले में मांस ले जाने पर भी दिशा निर्देश जारी किया गया है।

उत्तर प्रदेश में बकरीद मनाने संबंधी एक विस्तृत गाइडलाइंस जारी की गई है। यूपी पुलिस द्वारा जारी दिशा निर्देश में कहा गया है कि इस बार बकरीद सावन महीने के आखिरी सोमवार को पड़ रही है। ऐसे में विशेष सतर्कता बरतने की आवश्यकता है। धर्म गुरुओं से अपील की गई है कि वे लोगों को बकरीद का त्योहार घर में ही मनाने और सामूहिक रूप से नमाज अता न किए जाने को लेकर अपील करें। पुलिस से लोगों को सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करने के लिए जागरूक करने की बात भी कही गई है। साथ ही साथ सोशल मीडिया पर कानून-व्यवस्था को प्रभावित करने वाली सूचनाओं पर भी कार्यवाही करने के आदेश दिए गए हैं।

इसके साथ ही गाइडलाइंस में कहा गया है कि गैर मुस्लिम धार्मिक स्थलों के निकट, गैर मुस्लिम क्षेत्र और सार्वजनिक स्थानों पर कुर्बानी के अवशेष पड़े होने से विवाद उत्तपन्न हो सकता है। अतः इस संबंध में पूर्ण सतर्कता बरतने की जरूरत है। इसके अलावा प्रतिबंधित पशुओं की कुर्बानी की अफवाहों पर विशेष ध्यान देने की बात भी कही गई है। पुलिस द्वारा जारी आदेश में साफ कहा गया है कि खुले स्थानों में कुर्बानी व गैर मुस्लिम क्षेत्रों से खुले रूप में मांस ले जाने पर प्रतिबंध रहेगा।  इस फैसले को लेकर अभी तक किसी ने कोई प्रतिक्रिया नहीं दी है हांलांकि लोगों ने योगी सरकार के इस फैसले का स्वागत किया है।

Tags
Show More

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Close