Breaking NewsTop Newsक्राइमदेशराजनीतिवायरल

पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी हत्याकांड की दोषी नलिनी ने जेल में की आत्महत्या की कोशिश

पूर्व प्रधानमंत्री और कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के पति राजीव गांधी की हत्या में शामिल दोषी नलिनी श्रीहरण ने सोमवार देर रात तमिलनाडु की वेल्लोर जेल में आत्महत्या करने की कोशिश की। नलिनी पिछले करीब 29 साल से जेल में बंद हैं। जानकारी के मुताबिक, नलिनी ने साड़ी से जेल में खुदकुशी की कोशिश की है। नलिनी द्वारा आत्महत्या के प्रयास की जानकारी उसके वकील ने दी । नलिनी के वकील पुगलेंती ने बताया कि जेल में नलिनी और एक अन्य कैदी के बीच कथित तौर पर झगड़ा हुआ था । जिसके बाद नलिनी ने आत्महत्या करने का प्रयास किया। वकील के मुताबिक, नलिनी का जिस कैदी से झगड़ा हुआ था, वो भी उम्र कैद की सजा में जेल में बंद है। उस कैदी ने झगड़े की शिकायत जेलर से की थी। जिसके बाद नलिनी ने आत्महत्या करने की कोशिश की। वकील ने आगे कहा कि नलिनी 29 साल से जेल में बंद है हालांकि इतने वर्षों में कभी भी नलिनी ने आत्महत्या जैसा कदम नहीं उठाया है, ये पहली बार है जब नलिनी ने आत्महत्या करने का प्रयास किया है। इसलिए हम इस घटनाक्रम की असली वजह जानना चाहते हैं। नलिनी के पति मुरुगन ने वकील के माध्यम से आग्रह किया है कि नलिनी को वेल्लोर जेल से पुझाल जेल में शिफ्ट किया जाए।

गौरतलब है कि नलिनी 29 साल से जेल में है। उसकी बेटी का जन्म भी जेल में ही हुआ था। राजीव गांधी हत्याकांड के 6 अन्य दोषी भी नलिनी के साथ जेल में ही हैं। इनमें नलिनी का पति मुरुगन भी शामिल है। बता दें कि तमिलनाडु के श्रीपेरमबुदूर में एक चुनावी रैली के दौरान 21 मई 1991 में लिट्टे के आत्मघाती हमले में पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी की हत्या हुई थी। इस मामले में टाडा कोर्ट ने नलिनी को मौत की सजा सुनाई थी, लेकिन तमिलनाडु सरकार ने 24 अप्रैल 2000 को उसकी सजा उम्रकैद में बदल दी थी।

Tags
Show More

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Close