Breaking NewsTop Newsदेशराजनीतिवायरल

चंदन तस्कर वीरप्पन की बेटी को भाजपा के युवा मोर्चा की उपाध्यक्ष बनाया गया

कुख्यात चंदन तस्कर वीरप्पन की बेटी विद्यारानी ने इसी साल फरवरी में भाजपा पार्टी की सदस्यता ग्रहण की थी। बेशक तब विद्यारानी के भाजपा में शामिल होने पर देश की राजनीति में काफी बवाल हुआ था। किंतु अनेक तरह की चर्चाओं को नजरंदाज करते हुए भारतीय जनता पार्टी ने अब विद्यारानी को भाजपा के तमिलनाडु युवा मोर्चा का उपाध्यक्ष बनाया गया है। 29 साल की लॉ ग्रैजुएट विद्यारानी ने बताया कि वह प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी से प्रभावित होकर बीजेपी में शामिल हुई हैं। विद्यारानी कृष्णागिरि में बच्चों के लिए एक स्कूल तथा एक शैक्षिक संस्थान भी चलाती हैं।
बता दें कि 1990-2000 के दशक में दक्षिण भारत के पश्चिमी घाट के इलाकों वाले दो राज्यों में तथाकथित चंदन तस्कर वीरप्पन का आतंक जोरों पर था। कुख्यात तस्कर वीरप्पन पर पुलिस और वन विभाग के अधिकारियों समेत करीब 150 लोगों की हत्या के आरोप थे। साथ ही, वीरप्पन पर 100 हाथियों की तस्करी तथा चंदन की लकड़ियों की तस्करी के भी आरोप थे। साल 2000 में वीरप्पन एक बार तब भी सुर्खियों में था, जब उसने कन्नड़ फिल्म अभिनेता राजकुमार का अपहरण कर लिया था और हफ्ते भर बाद अभिनेता को छोड़ दिया था। साल 2004 में चंदन तस्कर के नाम से विख्यात वीरप्पन को तमिलनाडु पुलिस की एसटीएफ ने एक एनकाउंटर में मार गिराया था।

अपने पिता तस्कर वीरप्पन का नाम आने पर विद्यारानी कहती हैं कि वह अपने पिता से जीवन में केवल एक बार मिली थीं जब वह लगभग छह या सात साल की रही होंगी। कर्नाटक में मैं अपने दादा के साथ पास के एक जंगल में खेल रही थी। जहां खेल रही थीं, वह वहां पर आए, मुझसे कुछ मिनट बात की और फिर चले गए। मुझे याद है कि उन्होंने मुझसे अच्छा करने, डॉक्टर बनने और लोगों की सेवा करने के लिए पढ़ाई करने को कहा था।’ भाजपा के तमिलनाडु युवा मोर्चा का उपाध्यक्ष बनाए जाने की सूचना विद्यारानी को एक फेसबुक पोस्ट के जरिए पता चली है। मुझे लगता है कि उनके आस-पास की परिस्थितियों के कारण ही उन्होंने गलत रास्ता चुना था। लेकिन मैंने उनके बारे में कुछ कहानियां सुनी हैं जिसने मुझे समाज सेवा करने के लिए प्रेरित किया।’

पार्टी सूत्रों के मुताबिक, वीरप्पन की बेटी
विद्यारानी के जरिए भाजपा तमिलनाडु में करीब 20 प्रतिशत वोट बैंक से जुड़ने की कोशिश कर रही है। गौरतलब है कि तमिलनाडु में वन्नियार एक प्रभावशाली जाति समूह है। वीरप्पन का परिवार भी इसी जाति से है। तमिलनाडु में अति पिछड़ा वर्ग में आने वाली इस जाति के लोगों की आबादी करीब 20 प्रतिशत है। इसलिए माना जा रहा है कि भाजपा ने इसलिए विद्यारानी को तमिलनाडु युवा मोर्चा का उपाध्यक्ष बनाया है।

Tags

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Close