Breaking NewsTop Newsदेशपंजाबवायरल

पंजाब में सब-इंस्पेक्टर, कांस्टेबल के 4849 पद होंगे खत्म, 798 सिविलियन एक्सपर्ट भर्ती किए जाएंगे

बुधवार को पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह की अध्यक्षता में कैबिनेट की बैठक हुई थी। कैबिनेट बैठक में पंजाब पुलिस विभाग के पुनर्गठन को मंजूरी दिए जाने के बाद अब पुलिस विभाग में सब-इंस्पेक्टर, हेड कांस्टेबल और कांस्टेबल रेंक के मौजूदा 4849 पद खत्म किए जाएंगे। अस्थाई योजना के तौर पर 1481 पुलिस अफसरों की भर्ती की  जाएगी। इनमें 297 एसआई, 811 हेड कांस्टेबल व 373 कांस्टेबल शामिल होंगे। इससे पुलिस विभाग की जांच प्रक्रिया में भी गुणवत्ता आएगी। पुलिस भर्ती बोर्ड से सीधी भर्ती की जाएगी। यह भर्ती प्रक्रिया इन पदों को अधीनस्थ सेवाएं चयन बोर्ड के अधिकार क्षेत्र से बाहर करके पुलिस भर्ती बोर्ड के द्वारा पूरी की जाएगी। इससे ब्यूरो को मौजूदा पंजाब पुलिस मिनिस्ट्रियल स्टाफ रूल्ज के अनुसार मिनिस्ट्रियल स्टाफ के 159 पद पूरा करने में मदद मिलेगी व नए प्रस्तावित सेवा नियमों के अनुसार 798 पद भरने में भी मदद मिलेगी।

पंजाब जांच ब्यूरो के लिए सादे कपड़ों वाले ‘सिविलियन सहायक’ स्टाफ के तौर पर 798 विशेषज्ञों की भर्ती की जाएगी। ये विशेषज्ञ आईटी /डिजिटल, कानूनी, फोरेंसिक और वित्तीय क्षेत्रों में जांच पड़ताल के मामलों को सुलझाने में सहायक होंगे। पंजाब कैबिनेट के इस फैसले से पंजाब पुलिस उच्च तकनीकी जांच पड़ताल के काम के लिए सिविलियन कार्य क्षेत्र से जुड़े विशेषज्ञों की सेवाएं लेने वाली देश की पहली पुलिस बन गई है।
कोरोना वायरस महामारी से निपटने के लिए पंजाब सरकार सोशल मीडिया पर जागरूकता अभियान चलाने के लिए 15 एक्सपर्ट टीमों की भर्ती आउटसोर्सिंग के जरिए करेगी। कैबिनेट ने इसके लिए 7 करोड़ के सालाना बजट को मंज़ूरी दे दी है। इसमें इस क्षेत्र के पेशेवर और एक्सपर्ट को शामिल किया जाएगा। विभिन्न विभागों की जरूरतों को पूरा करने के लिए कैबिनेट ने 63 सोशल मीडिया एक्सपर्ट जिनमें एक मीडिया मैनेजर, 2 सहायक मीडिया मैनेजर, 15 डिजिटल वीडियो एग्जीक्यूटिव, 15 वीडियो एडिटर, 15 ग्राफिक डिजाइनर तथा 15 कंटेंट राइटर को आउटसोर्सिंग पर एक साल के लिए रखा जाएगा।

Tags
Show More

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Close