Breaking NewsTop NewsTravelराजनीतिहरियाणा

कोरोना के चलते हरियाणा में विधायकों के स्टडी टूर पर लगी रोक

कोरोना वायरस के चलते भारत में प्रत्येक राज्य और केंद्र सरकार की अर्थव्यवस्था डांवाडोल चल रही है । जिससे सरकारों ने अपने विभिन्न
विभागों के खर्चों में कटौती करनी शुरू कर दी है । अब खबर आ रही है कि हरियाणा सरकार के विधायकों द्वारा किए जाने वाले स्टडी टूर पर रोक लगा दी गई है। कोरोना महामारी के चलते विधानसभा स्पीकर ज्ञानचंद गुप्ता ने यह फैसला लिया है। हर साल विधानसभा कमेटियां विभिन्न स्टडी टूर के लिए अलग-अलग राज्यों के दौरे पर जाती रही हैं। गौरतलब है कि कुछ कमेटियां अन्य राज्यों में जाकर वास्तव में स्टडी करती हैं तो कुछ मौज मस्ती कर लौट आती हैं। किंतु इस बार ऐसा नहीं हो पाएगा।

मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर और उनकी कैबिनेट के मंत्रियों तथा विधानसभा स्पीकर को छोड़कर बाकी विधायकों को विधानसभा की विभिन्न कमेटियों में शामिल किया गया है। विधानसभा की सबसे अहम और पावरफुल कमेटी विशेषाधिकार हनन (प्रीविलेज) कमेटी है। साथ ही विधानसभा की लोक लेखा कमेटी भी काफी पावरफुल बताई जाती है। विधानसभा की प्रीविलेज कमेटी ने शुक्रवार को गोहाना के कांग्रेस विधायक जगबीर मलिक की एक शिकायत के आधार पर सोनीपत की तत्कालीन डीएफएससी मनीषा को तलब कर रखा है। मलिक ने स्पीकर के सामने शिकायत की थी कि अधिकारी उनका फोन नहीं उठाती हैं और न ही जवाब देती हैं। हालांकि मनीषा ने जवाब दे दिया था, लेकिन विधायक उनके जवाब से संतुष्ट नहीं हैं, जिस कारण यह मामला विधानसभा की प्रीविलेज कमेटी को सौंपा गया है। बता दें कि पिछली सरकार में विधानसभा की प्रीविलेज कमेटी के पास छह विधायकों के खिलाफ मामले चलाए गए थे, लेकिन किसी में भी कोई फैसला नहीं हो पाया था। हरियाणा विधानसभा स्पीकर ज्ञानचंद गुप्ता का कहना है कि हरियाणा और पड़ोसी राज्यों में कोरोना के तेजी से बढ़ रहे मामलों की वजह से विधानसभा की कमेटियों के स्टडी टूर पर रोक लगा दी गई है। यदि किसी कमेटी को किसी दूसरे राज्य की विधानसभा या लोकसभा में कार्य है अथवा कोई जानकारी लेनी है तो वीडियो कान्फ्रेंसिंग के जरिये काम किए जाएंगे।

Tags
Show More

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Close