Breaking NewsTop Newsउत्तर प्रदेशक्राइम

हिस्ट्रीशीटर विकास दुबे का करीबी अमर दुबे पुलिस एनकाउंटर में ढ़ेर, कानपुर पुलिस हत्याकांड में था शामिल

2 जुलाई की रात उत्तर प्रदेश के कानपुर में आठ पुलिसकर्मियों की हत्या के बाद से फरार चल रहे हिस्ट्रीशीटर विकास दुबे को पकड़ने के लिए उत्तर प्रदेश पुलिस दिन-रात अलग-अलग रणनीतियों पर काम कर रही है मगर पुलिस प्रशासन विकास दुबे तक नहीं पहुंच पा रही है । इन दिनों अगर पुलिस प्रशासन की कामयाबी की बात की जाए तो विकास दुबे के साथियों को जरूर एनकाउंटर में ढ़ेर कर रही है । प्राप्त जानकारी के अनुसार विकास दुबे का दाहिना हाथ कहे जाने वाले अमर दुबे हमीरपुर में पुलिस एनकाउंटर में मारा गया। कुछ दिन पहले भी पुलिस विकास दुबे और उसके साथियों को पकड़ने निकली थी जिसमें पुलिस एनकाउंटर में विकास दुबे गैंग के दो बदमाशों को भी मार गिराया गया था।

उत्तर प्रदेश के अपर पुलिस महानिदेशक (कानून व्यवस्था) प्रशांत कुमार ने बताया कि आज सुबह हमीरपुर मौदहा थानाक्षेत्र में एसटीएफ उत्तर प्रदेश एवं स्थानीय पुलिस से मुठभेड़ में विकास दुबे गैंग का शातिर अपराधी अमर दुबे मारा गया। अमर दुबे कानपुर हत्याकांड का नामज़द एवं वांछित अभियुक्त था । उत्तर प्रदेश पुलिस द्वारा राज्य के हर इलाके में विकास दुबे की सूचना देने के पोस्टर लगा दिए गए हैं।पोस्टर में विकास दुबे की फ़ोटो के साथ इसकी सूचना देने वाले शख्स को 250000 रुपये का इनाम देने की जानकारी लिखी गई है ।

बता दें कि मौजूदा समय में उत्तर प्रदेश का मोस्ट वांटेड हिस्ट्रीशीटर विकास दुबे फरीदाबाद में नेशनल हाईवे के पास एक होटल में रुका हुआ था। उसके साथ दो और साथी ठहरे थे। एसटीएफ और हरियाणा पुलिस को मंगलवार शाम सूचना मिलने पर जैसे ही टीम वहां पहुंची उससे पहले ही विकास दुबे अपने साथियों के साथ फरार हो चुका था । विकास दुबे का दिल्ली की कोर्ट में सरेंडर करने की थ्योरी का अनुमान लगाते हुए पुलिस ने दिल्ली, हरियाणा और उत्तर प्रदेश सीमा पर नाकेबंदी कर दी है ।

Tags
Show More

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Close