Breaking NewsTop Newsउत्तर प्रदेशक्राइमदेशवायरलवीडियो

उत्तर प्रदेश में पीड़ित महिला के सामने हस्तमैथुन करने वाला इंस्पेक्टर गिरफ्तार

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ देश भर में अपने राज्य के पुलिस विभाग की तारीफ करते रहते हैं कि अचानक उत्तर प्रदेश पुलिस का एक दूसरा ही चेहरा देश के सामने दिख जाता है जिससे खाकी वर्दी, राज्य सरकार के साथ-साथ देश को भी शर्मशार होना पड़ता है । ताज़ा मामला उत्तर प्रदेश के देवरिया जिले में भटनी थाने का है । जिसमें एक फरियादी महिला शिकायत दर्ज करवाने थाने पहुंची थी। जहां मौजूद इंस्पेक्टर भीष्मपाल सिंह यादव ने महिला की सहायता करने की बजाय महिला के सामने ही अपने पैंट की जिप खोलकर हस्तमैथुन करने लगा। थानाध्यक्ष की ये हरकतें पीड़िता द्वारा कैमरे में रिकॉर्ड कर ली गई थी । बाद में महिला ने अपने परिवार को वीडियो दिखाने के बाद वीडियो वायरल कर दी । वीडियो 22 जून का बताया जा रहा है। घटना का वीडियो वायरल हुआ तो पुलिस विभाग में हड़कंप मच गया। महकमे की किरकिरी होते देख वीडियो जांच करने के बाद आरोपी थानेदार के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया ।

 

इस मामले में पीड़ित लड़की का कहना है कि मैं जितनी बार ऐप्लिकेशन लेकर थानाध्यक्ष के पास गई हूं । मैं हमेशा अपनी मम्मी या पापा के साथ ही थानाध्यक्ष के पास जाती थी। मेरे परिवार का पाटीदार के साथ जमीन का एक विवाद चल रहा है । इंस्पेक्टर भीष्मपाल सिंह यादव द्वारा शुरू-शुरू में किए जाने वाले इस तरह के अश्लील आचरण को एक-दो बार तो मैंने नजरंदाज किया मगर बार-बार ऐसी ही हरकतें की जाने लगीं तो मैंने यह वीडियो बनाया। हम चाहते हैं कि हमें इंसाफ मिले।

पुलिस अधीक्षक श्रीपति मिश्रा ने बताया कि 22 जून को ही आरोपी थानाध्यक्ष को सस्पेंड कर दिया गया था। उसके खिलाफ भटनी थाने में धारा 354 (क), 509, 166 के तहत अभियोग पंजीकृत कर विवेचना कराई जा रही है। आरोपी इंस्पेक्टर भीष्म पाल सिंह यादव की गिरफ्तारी के लिए 25 हजार का इनाम घोषित किया गया था । मामला संज्ञान में आने के बाद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने इंस्पेक्टर भीष्म पाल सिंह यादव को सेवा से बर्खास्त करने का आदेश दे दिया है । कल आरोपी इंस्पेक्टर भीष्म पाल सिंह यादव को गिरफ्तार किया जा चुका है ।

Tags
Show More

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Close