Top Newsहरियाणा

पटौदी विधानसभा में नया मोड़, हिंदू विरोधी सत्य प्रकाश जरावता के खिलाफ नरेंद्र पहाड़ी ने भरा पर्चा !

रिपोर्टर-धीरज शर्मा
फोन न. 9671692002

पटौदी विधानसभा में बीजेपी प्रत्याशी सत्यप्रकाश जरावता की मुश्किलें बढ़ सकती है। सत्यप्रकाश पर हिंदू विरोधी आरोप लगने के बाद मुकाबले में आरएसएस से नरेंद्र पहाड़ी को लोगों ने मैदान में उतारा है। जिससे मुकाबला बीजेपी पार्टी और बीजेपी आरएसएस की विचारधारा रखने वाले के बीच होगा। पटौदी विधानसभा की राजनीति में जबरदस्त मुकाबला दिखने के आसार हैं।

बीजेपी प्रत्याशी सत्यप्रकाश जरावता पर हिंदू विरोधी,धर्म परिवर्तन किराने व हनुमान जी की मूर्ति का अपमान करने के आरोप लगने के बाद लोगों ने आर एस एस के नरेंद्र पहाड़ी जो कि 40 साल से आर एस एस के लिए काम कर रहे हैं और गौ रक्षा दल के जिला प्रमुख हैं को मैदान में उतार दिया है। जब सत्य प्रकाश जरावता का विरोध हो रहा था तो लोग सोच रहे थे कि ये जिनको टिकट नहीं मिला या जो दूसरी पार्टी से उनके राजनैतिक पैतरे हैं परंतु लोगों के द्वारा जब 40 साल से कार्यरत आर एस एस से नरेंद्र पहाड़ी जोकि मात्र 7 साल की उम्र में आर एस एस में आ गए थे और लगातार गौ रक्षा दल के लिए काम कर रहे हैं और फिलहाल गौ रक्षा दल के जिला प्रमुख हैं को मैदान में उतारा तो लोगो के मन का असमंजस खत्म हो गया।

इस वजह से मुकाबला बहुत ही रोचक होने के आसार बन गए हैं।आज नरेंद्र पहाड़ी ने बड़े ही जोश के साथ अपना नामांकन भरा। आपको बता दें नरेंद्र पहाड़ी मात्र 7 साल की उम्र में ही आरएसएस में आ गए थे जोकि इलाके में अपना अलग ही रुतबा रखते हैं कुर्ता पजामा पहन कर एक खद्दर का थैला बाजू में लटका कर और लंबी चोटी के साथ जब वह निकलते हैं तो लोगों का मन मोह लेते हैं। अब देखना यह होगा कि बीजेपी का बैनर नरेंद्र पहाड़ी के सामने कहां तक रुक पाता है।

नरेंद्र पहाड़ी का व्यक्तित्व इलाके में ऐसा रहा है कि उन्होंने कभी भी व्यक्ति विशेष को खुद से नहीं जोड़ा है अपितु बीजेपी और आरएसएस की विचारधारा से लोगों को जोड़ा है परंतु जब बीजेपी के द्वारा उतारे गए प्रत्याशी पर धर्म विरोधी होने के आरोप लगे और नरेंद्र पहाड़ी मैदान में उतारे गए तो लोगों का जुड़ाव भी देखने को मिला और बहुत बड़ी संख्या में उनका दिल से स्वागत किया अक्सर देखने को मिलता है कि राजनीतिक पार्टियां प्रचार सामग्री पर बहुत सारा धन ख़र्चति है तथा भीड़ एकत्रित करने के लिए पैसों का सहारा लेती है परंतु नरेंद्र पहाड़ी के समर्थक दिल से जुड़े हुए दिखाई दिए जो कि प्रचार सामग्री से कम और व्यक्ति से व्यक्ति का प्रचार करते दिखाई दिए।

हालांकि प्रदर्शन में साथ देने वाली मुकेश चौधरी ने कहा था कि अगर जनता जिसे चुनेगी वो उसका साथ देगी परंतु अब वो भी निर्दलीय चुनाव लड़ रही है। इन सब बातों से ये तो साफ है कि आने वाले टाइम में पटौदी का मुकाबला एकतरफा नही होगा।

Show More

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Close