Khabar Harpal
  • Home
  • BANNER NEWS
  • कवि पवन करण के कविता संग्रह ‘स्त्रीशतक’ का दूसरा खंड प्रकाशित
BANNER NEWS देश लेख सोशल मीडिया

कवि पवन करण के कविता संग्रह ‘स्त्रीशतक’ का दूसरा खंड प्रकाशित

वर्ष 2018 में भारतीय ज्ञानपीठ नई दिल्ली से प्रकाशित हिंदी के प्रसिद्ध कवि पवन करण के कविता संग्रह ‘स्त्रीशतक’ का दूसरा खंड प्रकाशित हो गया है। इसे भी भारतीय ज्ञानपीठ ने ही प्रकाशित किया है। यह उल्लेखनीय है कि जब पहले खंड की शक्ल में स्त्रीशतक प्रकाशित होकर आया तब हिंदी के पाठकों के बीच इसका उत्सुकता भरा आत्मीय स्वागत हुआ। हिंदी कविता प्रेमियों के बीच ही नहीं अन्य भारतीय भाषा की कविता के पाठकों के बीच भी बरस भर इसकी चर्चा बनी रही। भारतीय प्राचीन ग्रंथों से ली गईं एक सौ स्त्रियों पर लिखी गयीं स्त्रीशतक की प्रस्तावना में प्रतिष्ठित संस्कृत विद्धान राधा वल्लभ त्रिपाठी जी का यह वक्तव्य उल्लेखनीय है कि ‘पवन करण का स्त्रीशतक एक विलक्षण कृति है। इसमें हमारी सभ्यता और इतिहास के वे अनछुए पहलू बहुत साहस के साथ बेबाक शैली में कवि ने उजागर कर दिये हैं, जिनमें देश की आधी आबादी की भूली बिसरी कथाएँ और व्यथाएँ सिमटी हुई हैं।

Related posts

भाजपा कार्यकर्ता महाकुंभ में उमा भारती ने कांग्रेस की भक्ति को ढोंग बताया

admin

मध्यप्रदेश समेत 5 राज्यों में चुनाव तारीखों का ऐलान, मध्यप्रदेश में 28 नवंबर को होगी वोटिंग

admin

आचार्य विशुद्ध सागर महाराज सहित 40 मुनियों के मार्गदर्शन में होंगा बरई पंचकल्याणक

admin

Leave a Comment